DehradunJan SamasyaUttarakhand

प्रदेश में रोजगार के मामले में हो रही हैं स्थानीय युवाओं की अनदेखी, आंदोलन छेड़ेगा युवा उक्रांद

161views

देहरादून। उत्तराखंड क्रांति दल युवा प्रकोष्ठ की बैठक में कहा गया कि प्रदेश में बेरोजगारों की उपेक्षा हो रही हैं। यहां व्याप्त बेरोजगारी के बावजूद राज्य मे स्थापित सिडकुल, शिक्षण संस्थानों, प्राइवेट अस्पतालों तथा अन्य संस्थानों मे राज्य के युवाओं की अनदेखी करके बाहरी लोगों को नियुक्त किया जा रहा हैं। प्रकोष्ठ की जोगीवाला में हुई बैठक के संयोजक युवा केन्द्रीय संगठन मंत्री राजेन्द्र बिष्ट रहे। वक्ताओं ने कहा कि राज्य के विभिन्न उद्योगों में रोजगार में 70 प्रतिशत युवाओं को प्राथमिकता का प्रावधान होने के बाद भी बाहरी राज्यों से आये युवाओं को पर्वतीय क्षेत्र के युवाओं का निवाला दिया जा रहा हैं। इस मामले में राज्य की डबल इंजन की सरकार के उदासीन रवैये से प्रदेश का युवा आज मानसिक तौर पर अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहा हैं। युवा केंद्रीय अध्यक्ष सुशील उनियाल ने कहा कि राज्य मे स्थापित समस्त सिक्यूरिटी एजेंसियों कोे तक बाहरी राज्यों के पूंजीपति चला रहे हैं। साथ ही यहां के लोगों को वेतन भत्तों तथा अन्य सुविधाओं के नाम पर ठगने का कार्य ही किया जा रहा हैं। उनका आरोप था कि होटल, अस्पताल, तथा अन्य संस्थानों में राज्य के युवाओं का शोषण किया जा रहा हैं। इसके खिलाफ युवा उक्रांद आंदोलन छेड़ेगा। युवा केंद्रीय महामंत्री सौरभ आहुजा ने कहा की जल्द ही युवा उक्रांद प्रदेश व्यापी अन्दोलन करने जा रहा है। उन्होंने युवाओं का आव्हान किया की इस मुहिम से जुड़ें और अपने अधिकारों के लिये लड़े। इस मौके पर विनीत सकलानी, रघुवीर पिमोली, दुर्गेश लखेड़ा, अभिनंदन दिनकर, अंकुर शर्मा, अभिषेक, योगेन्द्र नेगी, शेलेंन्द्र भंडारी, भरत रावत, तुषार रौतेला, देवेश आदमी, सुमन रावत आदि मौजूद थे।

Leave a Response