AlmoraCrimeUttarakhand

बड़ी ख़बर : 45 लाख की धोखाधड़ी करने वाले फर्जी चिटफंड कंपनी का वाईस चैयरमेन गिरफ्तार, देश के ​विभिन्न राज्यों में अलग—अलग नाम से चलाते थे फर्जी कंपनियां, निवेशकों को लगाया है करोड़ों का चूना

पुलिस गिरफ्त में अभियुक्त
432views

अल्मोड़ा। देश के विभिन्न राज्यों में अलग—अलग नाम से चिटफंड कंपनी के माध्यम से करोड़ों की ठगी करने वाले एक अंतरराज्यीय गिरोह के सरगना को गिराफ्तार करने में अल्मोड़ा पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने अभियुक्त को यूपी पीलीभीत से गिरफ्तार कर आज न्यायालय भेज दिया है, जबकि इस गिरोह के कई अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं। दरअसल, वर्ष 2014 में यहां अल्मोड़ा के चौघानपाटा में एवरग्रीन एग्रो मल्टी स्टेट सोसाइटी के नाम से कार्यालय खोला गया था, जिसमें निवेशकों से आरडी और एफडी के माध्यम से रूपया जमा करवाया जा रहा था। उक्त सोसाइटी मैच्युरिटी पीडियड के समय जब निवेशकों को उनकी धनराशि दी जानी थी अचानक यहां से अपने सर्वर व कार्यालय बंद कर फरार हो गई। निवेशकों ने इन लोगों से संपर्क करने का काफी प्रयास किया, लेकिन यह लोग हाथ नहीं आये। इस मामाले में अल्मोड़ा कोतवाली में 2017 में केस रजिस्टर्ड हुआ। जब जांच आगे बढ़ी तो पता चला कि सोसाइटी के पूर्व निदेशक ने एक एमओयू के माध्यम से इन लोगों को यह सोसाइटी सौंप दी थी। इसके बावजूद सेंट्रल रजिस्टार मिनिस्टरी आफिस में इन लोगों ने कोई सूचना दर्ज नहीं कराई थी।
ऐसे हुआ फर्जीवाड़े का खुलासा
गत 23 नवंबर 2017 को अमित कुमार आर्य निवासी दामुधारा गोलना करड़िया कोतवाली अल्मोड़ा द्वारा एवरग्रीन कोपरेटिव सोसाइटी के प्रबन्धकों के द्वारा निवेशकों का पैसा लेकर फरार होने, धोखाधड़ी करने लगभग 45 लाख रुपये लेकर सोसाइटी बंद करने, निवेशकों की जमा धनराशी हड़पने के सम्बन्ध में कोतवाली अल्मोड़ा में धारा 406/420 भादवि बनाम मोहम्मद फईम आदि के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कराया गया।
यूं हुई पुलिस कार्रवाई
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री प्रहलाद नारायण मीणा ने धोखाधड़ी के मामलों में शीध्र कार्यवाही करते हुए अभियुक्तों की गिरफ्तारी करने के निर्देश पर वरिष्ठ उप निरीक्षक नीरज भाकुनी, कानि. ललित मोहन कोतवाली अल्मोड़ा ने 10 जनवरी 2019 को प्रतीक मिश्रा, वाईस चेयरमैन एवरग्रीन सोसाइटी पुत्र प्रदीप मिश्रा निवासी निरंजकुंज पीलीभीत को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश किया गया।

गुजरात पुलिस ने भी किया है गिरफ्तार
उक्त सम्बन्ध में वउनि नीरज भाकुनी ने बताया कि अभियोग से सम्बन्धित अभियुक्त प्रदीप गुप्ता पुत्र उपदेश गुप्ता, श्रीमती ज्योति गुप्ता पत्नी प्रदीप गुप्ता निवासीगण सदर सफाखाना रामपुर उप्र, सुस्मिता सक्सैना पुत्री ओमप्रकाश सक्सैना निवासी. गुनारा तहसील. जलालाबाद, शाहजहांपुर उप्र आदि अभियुक्तों की तलाश रामपुर लखनऊ, शाहजहांपुर जनपदों में करने से विदित हुआ कि प्रदीप गुप्ता, पंकज श्रीवास्तव को 15 जनवरी 2019 को थाना. कोलाल, जनपद गोधरा, जनपद गोधरा गुजरात पुलिस ने निवेशकों के साथ धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। अन्य की तलाश जारी है।

Leave a Response