धैना में ‘सरकार जनता के द्वार’ कार्यक्रम आयोजित
डीएम ने दिए कई शिकायतों की जांच के आदेश
सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर

राजकीय इंटर कालेज धैना में आयोजित ‘सरकार जनता के द्वार’ कार्यक्रम में लोगों ने 60 समस्याएं रखी। मुख्य शिक्षाधिकारी को कारण बताओ नोटिस दिया गया। जिलाधिकारी ने समस्याओं का समाधान करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

शुक्रवार को आयोजित बहुउद्देशीय शिविर में समाज कल्याण ने पांच दिव्यांग प्रमाण पत्र, 20 पेंशन आवेदन भरवाये और स्वास्थ्य विभाग ने 15 लोगों की जांच करते हुए दवाएं बांटी। शिक्षा विभाग के अधिकारी नहीं पहुंचे। जिस पर जिलाधिकारी रीना जोशी ने कारण बताओ नोटिस जारी किया। शिकायतें उठी कि पशु सेवा केन्द्र धैना में फार्मसिस्ट को नहीं बैठते हैं। सेवा केंद्र पर दवाइयां फेंकी रहती हैं। एक्सपायरी दवाओं का वितरण होता है और पैसा लिया जाता है। इन शिकायतों पर डीएम ने जांच के आदेश दिए। एएनएम सेंटर में एएनएम नहीं आने की भी जांच होगी। प्रत्येक बुधवार को एएनएम सेंटर पर तैनात होगी। शिकायतकर्ता गोपाल सिंह ने आंगनबाड़ी केंद्र जून से बंद बताया। जिस पर डीएम ने जांच के निर्देश दिए।


प्रधान नौघर स्टेट ने बताया कि क्षेत्र में तीन गुलदार हैं, जिन्हें पकड़ने के लिए पिंजरा लगाने की मांग की। ग्राम प्रधान धैना ने राजकीय इंटर कालेज की चाहरदीवारी, 25 वर्ष पुराने धैना पंचायत जीर्णशीर्ण भवन की मरम्मत, तोक सलवाडी तक बनी सड़क से पानी घरों में घुसने का समाधान, धैना-बडतपाल स्वीकृत सड़क एलाइमेंट स्वीकृत कराने की मांग की। प्रधान लखनी मनोज कुमार ने क्षेत्र में सड़े-गले विद्युत पोलों को बदलने तथा झूलते विद्युत तारों को कसने का अनुरोध किया। कन्सयारी -लखनी कच्ची सड़क में गढ़ढे भरान के साथ ही नालियॉ निर्माण व सड़क से ट्रांसफार्मर हटाने की मांग की। मनीषा देवी ने शौचालय, मीना देवी ने आवास, लक्ष्मण सिंह ने आवास मांगा। इस मौके पर भाजपा शिव सिंह बिष्ट, ब्लॉक प्रमुख हेमा बिष्ट, मुख्य विकास अधिकारी संजय सिंह, अपर जिलाधिकारी चन्द्र सिंह इमलाल, उप जिलाधिकारी राजकुमार पाण्डे, जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी आर. चन्द्रा, मुख्य कृषि अधिकारी एस.एस.वर्मा समेत विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here