प्रयागराज। कोरोना के संक्रमण में जमात की भूमिका क्लियर होने के बाद देश भर में जमातियों और उनके संपर्क में आने वाले लोगों की धरपकड़ जारी है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने भी हर जिले में जमातियों और उन्हें शरण देने वालों की तलाश तेज कर दी है। प्रयागराज में भी छिपे हुए जमातियों और उन्हें छिपाने वाले प्रोफेसर को गिरफ्तार कर लिया गया है।
इलाहाबाद विश्वविद्यालय के प्रोफेसर शाहिद और 16 विदेशी जमातियों समेत कुल 30 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। विदेशियों की गिरफ्तारी फॉरनर्स एक्ट के तहत दर्ज मामले में की गई है, जबकि प्रोफेसर शाहिद को जमातियों को चोरी-छिपे शहर में शरण दिलाने के आरोप और महामारी एक्ट के तहत दर्ज मुकदमे में गिरफ्तार किया गया है।
दरअसल, पुलिस की ओर से बार-बार तबलीगी जमात से लौटे जमातियों को सामने आने और क्वारनटीन होने की अपील की जा रही है। इसके बावजूद प्रयागराज में कई जमाती छिपे थे। इस बाबत पुलिस ने विदेशी नागरिकों और उनके शरणदाताओं के खिलाफ करैली,शिवकुटी और शाहगंज थाने में दर्ज मुकदमा दर्ज किया था।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here