अपराधअल्मोड़ाउत्तराखंड

अल्मोड़ा न्यूज: आपरेशन ‘नया सवेरा’ के जाल में फंसे तीन चरस तस्कर, 4.10 लाख की चरस बरामद

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रहलाद नारायण मीणा की पहल पर चल रहे आपरेशन ”नया सवेरा” के तहत तीन चरस तस्कर धरे गए। इस आपरेशन के तहत मादक पदार्थों के तस्कर लगातार पुलिस के हत्थे चढ़ रहे हैं। तीनों आरोपियों के कब्जे से करीब 4.10 लाख रुपये की चरस बरामद हुई है। पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया है।
मामले के मुताबिक एसओजी की सूचना पर एसओजी एवं थाना लमगड़ा की संयुक्त टीम ने चैकिंग की। इस बीच लमगड़ा ब्लाक अंतर्गत गाजर गांव को जाने वाले रास्ते के पास चेक करने पर ग्राम चमोली, मुक्तेश्वर नैनीताल निवासी यशपाल सिंह चिलवाल पुत्र उमेद सिंह के कब्जे से 1.194 किग्रा और ग्राम सुंदरखाल, मुक्तेश्वर नैनीताल निवासी घनश्याम सिंह थापा पुत्र मोहन सिंहके कब्जे से 1.18 किग्रा चरस बरामद हुई। बरामद चरस की कुल कीमत 2,30,000 रुपये बताई गई है। पुलिस ने दोनों को एनडीपीएस एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया और थाना लमगड़ा में उनके खिलाफ अभियोग पंजीकृत कर लिया।
लमगड़ा थाना अंतर्गत ही एक दूसरे मामले में आज एसओजी की सूचना पर एसओजी एवं लमगड़ा थाना की संयुक्त पुलिस टीम ने संयुक्त चैकिंग के दौरान मोरनौला के पास खुशाल सिंह पुत्र स्व. लक्ष्मण सिंह, निवासी ग्राम भेटी द्यारखोली, तहसील धारी, नैनीताल के कब्जे से 1.80 किग्रा चरस बरामद की। जिसकी कीमत 1,80,000 रुपये आंकी गई है। पुलिस ने इस आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ भी थाना लमगड़ा में एनडीपीएस अधिनियम के तहत अभियोग पंजीकृत कर लिया है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों को न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है। थानाध्यक्ष लमगड़ा सुनिल सिंह बिष्ट ने बताया कि अभियुक्तों ने पूछताछ पर पता चला कि वह चरस अपने आसपास के गांवों से लाकर हल्द्वानी में नवयुवाओं को बेचने के लिए जा रहे थे। उन्होंने बताया कि आरोपियों का आपराधिक इतिहास के बारे में जानकारी प्राप्त की जा रही है। पुलिस टीम में एसओजी प्रभारी नीरज भाकुनी, लमगड़ा थानाध्यक्ष सुनिल सिंह बिष्ट, एसआई देवेन्द्र सिंह राणा, एसआई मोहन सिंह सौन, एसआई जगत सिंह, आरक्षी मनमोहन सिंह, दीपक खनका, शादाब खान व भूपेन्द्र पाल शामिल थे।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!