उत्तराखंडबागेश्वरस्वास्थ्य

बागेश्वर में गूंज रहा : पल भर का मजा, जिंदगी भर की सजा… ये है नशा

बागेश्वर। विश्व भर में 26 जून को नशे के सेवन और अवैध तस्करी के खिलाफ अंर्तराष्ट्रीय नशा मुक्ति दिवस मनाया जाएगा। इसके उपलक्ष्य में बागेश्वर पुलिस द्वारा लोगों को नशा छोड़ने और इससे दूर रहने के लिए जागरुक किया जा रहा है। बागेश्वर पुलिस द्वारा 22 जून से जागरुकता कार्यक्रम शुरु किया गया तथा यह 28 जून तक चलेगा। इस दौरान लोगों को नशे के दुष्प्रभावों के बारे में बताया जा रहा है। प्रभारी कोतवाली बागेश्वर डीआर वर्मा ने टीम के साथ क्षेत्र का भ्रमण कर लोगों को जागरुक किया। साथ ही उन्होंने पीए सिस्टम और सोशल मीडिया के माध्यम से नशे के खिलाफ ऑडियो संदेश भी जारी किया ऑडियो में नशे के दुष्प्रभावों के बारे में गहन जानकारी दी गई है। पुलिस द्वारा बताया गया है कि मादक पदार्थो के सेवन में शराब,सिगरेट,ड्रग्स, हेरोइन, गांजा,चरस, अफीम आदि शामिल हैं। इनके सेवन से सबसे बड़ी हानि स्वास्थ्य की होती है। इससे आप के शरीर के कई अंगों पर एक साथ विपरीत असर पड़ता है। खास तौर से यह आपके दिमाग को भी अपनी चपेट में ले लेता है। नशा करने वाला व्यक्ति सदैव अपने ख्यालों में ही रहता है, उसे अपने आस पास के माहौल से ज्यादा मतलब नहीं रहता है। सोशल मीडिया में बागेश्वर पुलिस का ये जागरुकता अभियान ऑडियो स्लोगन ”पल भर का मजा,जिंदगी भर की सजा… ये है नशा” और “हमारा मिशन नशा मुक्त जीवन” काफी पसंद किया जा रहा है। लोग पुलिस की इस अनूठी पहल और जागरूकता की भूरी-भूरी प्रशंसा कर रहे हैं।

रोचक व विशेष ख़बरों के लिए सब्सक्राइब करें हमारा चेनल CNE TV

Leave a Comment!

error: Content is protected !!