✒️ जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष निरीक्षण पर गए, तो दशा देख रह गए दंग

✒️ तहस-नहस सड़क में फंसे वाहनों के चालक/मालिकों के सामने रोजी-रोटी का संकट

दीपक पाठक, बागेश्वर

विगत माह बरसात में तहसील कपकोट के काफली-कमेड़ा मोटरमार्ग पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो चुकी है। 11 किमी के इस मोटर मार्ग में 7 किमी सड़क पूर्ण रूप से बह चुका है। जिससे इस सड़क से जुड़े गांवों में यातायात पूर्ण रूप से ठप हो चुका है। जिसमें दर्जनों वाहन वहीं खड़े होने से वाहन चालकों के बीच रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया है।

जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष हरीश ऐठानी ने बताया कि दीवाली पर क्षेत्र भ्रमण पर कफली कमेड़ा पहुंचने पर पाया कि सड़क का लगभग 6-7 किमी तक कोई नामोनिशान नहीं है, लेकिन आज तक सड़क का जिम्मा लिये विभाग ने सुधार कार्य करना तो दूर, सड़क का स्थलीय निरीक्षण तक नहीं किया। उन्होंने बताया कि सड़क के क्षतिग्रस्त होने से दर्जनों वाहन वजह जगह खड़े फंसे हुए। जिनके वाहन मार्ग में फंसे हुए हैं, उनके समक्ष रोजी रोटी का संकट पैदा हो चुका है। जबकि अधिकांश वाहन बैंक लोन से चल रहे है। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों का देश-दुनियां से सड़क सम्पर्क विगत 2 माह से कटा हुआ है।

उन्होंने बताया कि गाँव मेें रह रहे लोगों के रोजमर्रा की जरूरतों के लिए 15 किमी पैदल कपकोट आना पड़ रहा है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि जल्द दुरस्त न करने पर कांग्रेस पार्टी आंदोलन को बाध्य होगी क्षेत्र पंचायत सदस्य चामू देवली ने कहा की विभाग को कई बार सड़क की शिकायत देने पर भी आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है। इस दौरान नगर पंचायत अध्यक्ष गोविंद बिष्ट ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष दीपक गड़िया आदि मौजूद थे।


Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here