⏩ शिक्षा एवं विज्ञान के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्यों के लिए सम्मानित

सीएनई रिपोर्टर

फाउंडेशन उत्तर प्रदेश द्वारा राजकीय महाविद्यालय अगरोड़ा टिहरी गढ़वाल मे कार्यरत वनस्पति विज्ञान के सहायक प्राध्यापक भरत गिरी गोसाई को राष्ट्रीय शिक्षक दिवस की पूर्व बेला पर राष्ट्रीय प्रतिष्ठा सम्मान से नवाजा गया।




फाउंडेशन के संस्थापक श्रीमती मानसी बाजपेई ने बताया कि यह सम्मान प्रतिवर्ष उन व्यक्तियों को दिया जाता है, जिन्होंने समाज में वास्तविक परिवर्तन लाने मे महत्वपूर्ण उपलब्धियां हासिल की हैं। फाउंडेशन के सह-संस्थापक श्रीमती सौम्या बाजपेई के अनुसार राष्ट्रीय प्रतिष्ठा पुरस्कार प्रतिवर्ष साहित्य, शिक्षा, विज्ञान और समाज सेवा में उत्कृष्ट कार्य करने वाले मानवतावादियों को सम्मानित करने का प्रयास है। फाउंडेशन के चयन समिति ने बताया कि भरत गिरी गोसाई को यह सम्मान शिक्षा एवं विज्ञान के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्यों के लिए दिया जा रहा है।

बता दें कि सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य तिलगिरी के कनिष्ठ पुत्र भरत गिरी गोसाई बचपन से ही मेधावी छात्र रहे। हाईस्कूल से परास्नातक तक वे प्रथम स्थान पर रहे। जूनियर रिसर्च फेलो तथा सीनियर रिसर्च फेलो रहते हुए उन्होंने अपना शोध कार्य प्रतिष्ठित केंद्रीय संस्थान जी०बी० पंत राष्ट्रीय पर्यावरण संस्थान अल्मोड़ा से किया। इससे पहले भरत गिरी गोसाई को यूजीसी की प्रतिष्ठित बी०एस०आर० फैलोशिप, अर्थवाॅच इंटरनेशनल फैलोशिप, नेशनल मिशन ऑफ हिमालयन स्टडी फैलोशिप के साथ-साथ सामाजिक क्षेत्र में दिया जाने वाला प्रतिष्ठित भारत गौरव अवॉर्ड, सर्टिफिकेट ऑफ एक्सीलेंसी, इंटरनेशनल साइंटिस्ट अवार्ड, स्काउट मे प्रथम एवं द्वितीय सोपान अवार्ड, राष्ट्रीय सेवा योजना मे सी सर्टिफिकेट, टीचर इनोवेशन अवार्ड, टीचर ऑफ द ईयर अवार्ड आदि से भी सम्मानित किया जा चुका है। वे विभिन्न राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय कार्यशालाओ/सम्मेलनों में प्रतिभाग करने के साथ-साथ कई शोध पत्र भी प्रकाशित कर चुके हैं।

उनकी इस उपलब्धि पर श्री देव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो० पी०पी० ध्यानी, महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो० विनोद प्रकाश अग्रवाल समेत विभिन्न संगठनो से जुड़े गणमान्य लोगों ने उन्हे शुभकामनाएं दी हैं।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here