संजय निषाद (फाइल फोटो)

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में वर्ष 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए अभी से सभी राजनीतिक पार्टियां अपनी-अपनी तैयारियों में जुट गई हैं। इसी बीच भारतीय जनता पार्टी के सहयोगी दल निषाद पार्टी ने एक बड़ी मांग कर दी है। निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद ने आगामी विधान सभा चुनाव में उप मुख्यमंत्री पद की मांग की है। उन्होंने कहा कि यह मांग उनकी नहीं बल्कि उनके समाज की है। आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा अगर उन्हें उप मुख्यमंत्री का चेहरा बनाकर चुनाव लड़ती है तो इससे उसे और फायदा मिलेगा और हमारी सरकार बनेगी।

निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद ने बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस में आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में खुद को उप मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने की मांग भारतीय जनता पार्टी से की है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने हमें एक कैबिनेट पोस्ट और एक राज्यसभा सीट देने का वादा किया था। हमारी मांग है कि आगामी चुनाव में भाजपा की तरफ से मुझे उप मुख्यमंत्री का चेहरा बनाया जाए। उनका कहना है कि अगर भाजपा उनके चेहरे पर चुनाव लड़ती है तो पूरे यूपी में निश्चित विजय मिलेगी। अगर वे हमें चोट पहुंचाएंगे तो वे भी खुश नहीं रहेंगे। हम अपने आरक्षण के मुद्दे के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

वाराणसी : महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के 35वें कुलपति के रूप में प्रो. आनंद कुमार त्यागी ने कार्यभार किया ग्रहण

संजय निषाद ने कहा कि भाजपा ने केंद्र व प्रदेश सरकार में प्रतिनिधित्व देने का वादा किया था हम आज उस वादे की याद दिला रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनकी जाति को पिछड़ी से निकालकर अनुसूचित जाति में शामिल किया जाए। उन्होंने दावा किया कि यूपी की 160 से अधिक विधानसभा की सीटों पर निषाद व उनकी अन्य उपजातियों का दबदबा है। 70 क्षेत्रों में निषाद समुदाय की आबादी 75 हजार से ज्यादा है। निषाद पार्टी 100 सीट जीतने का संकल्प लेकर बूथ स्तर पर काम कर रही है। यही जाति भाजपा को विजय दिलाती हैं। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने उनकी जाति के लोगों पर जो मुकदमे दर्ज कराए हैं उन्हें वापस दिया जाए। निषाद पार्टी ने लखनऊ में एक कार्यालय दिए जाने की भी मांग की है।

संजय निषाद ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अब तक सभी जातियों के मुख्यमंत्री बनाए जा चुके हैं, लेकिन अब 18 फीसद वोट की ताकत रखने वाले मछुआरा समाज के चेहरे पर भाजपा को चुनाव लड़ना चाहिए। यदि मुख्यमंत्री नहीं बना सकते तो कम से कम डॉ. संजय निषाद को आगामी चुनाव में उप मुख्यमंत्री का चेहरा बना कर चुनाव लड़े, अगर भाजपा ऐसा करती है तो इससे पूरे प्रदेश में निश्चित ही विजय मिलेगी। डॉ. संजय निषाद ने कहा कि हमको अगर बीजेपी खुश रखेगी तो उनको 2022 में खुशी मिलेगी। अन्यथा हमको दुखी करके बीजेपी खुश नहीं हो सकती है।

प्रधानमंत्री ने दी गरीब कल्याण योजना के तहत अनाज आवंटन को मंजूरी

निषाद ने कहा कि उत्तर प्रदेश में हमारी पार्टी द्वारा कार्यक्रम शुरू किए जाएंगे। हम अब दौरे शुरू करेंगे और कार्यक्रम करेंगे। हमारे कार्यक्रम पहले से तय थे, लेकिन बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व ने हमको दिल्ली मिलने के लिए बुलाया था, जिस वजह से कार्यक्रम को आगे बढ़ाना पड़ा। संजय निषाद ने दावा किया कि यूपी की 160 सीटों पर निषाद समुदाय का प्रभाव है। बता दें कि हाल ही में संजय निषाद ने नई दिल्‍ली में गृह मंत्री अमित शाह के साथ मुलाकात की थी। इस मुलाकात में उन्होंने 2022 के विधानसभा चुनाव में निषाद पार्टी को उचित सीटें देने की मांग की थी। इसके अलावा उन्‍होंने केंद्र और प्रदेश सरकार में एक-एक मंत्री पद की भी मांग की थी। संजय निषाद ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी मुलाकात कर अपनी ये मांगें सामने रखी थीं। 

 

Previous articleBageshwar News: कांग्रेस नेता कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचे मनाखेत गांव और वहीं अनशन पर बैठ गए
Next articleBageshwar News: बिलौना में खुली अस्थाई पुलिस चौकी, एसपी ने किया उद्घाटन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here