Uncategorized

बिहार चुनाव: भाजपा के निवर्तमान विधायक चोकर बाबा का टिकट कटा, अन्न जल छोड़ा, बोले-आजीवन फलाहारी रहूंगा

सिवान। सिवान के अमनौर विधानसभा क्षेत्र निवर्तमान भाजपा विधायक शत्रुघ्न तिवारी अपनी पार्टी से नाराज हो कर कोप भवन उमें चले गए हैं। इसकी वजह है पार्टी द्वारा उनका टिकट काटा जाना। शत्रुघ्न तिवारी इलाके में चोकर बाबा के नाम से भी जाने जाते हैं। स्वभाव से सन्यासी हैं। टिकट काटे जाने से नाराज होकर अब उन्होंने अन्न-जल त्यागने का निर्णय ले लिया है। अब वे जिंदगी भर फलाहार पर ही रहेंगे।

शत्रुघ्न तिवारी उर्फ़ चोकर बाबा के विधानसभा क्षेत्र अमनौर में मतदान दूसरे चरण में होना है। एनडीए में सीट बंटवारे के क्रम में भाजपा ने इसे बचाए रखा है। हालांकि, चर्चा है कि इस बार चोकर बाबा को टिकट नहीं मिलेगा। उनकी जगह पार्टी का प्रत्याशी कौन होगा, यह अभी तय नहीं है। लेकिन चर्चा है कि पार्टी इस बार कृष्ण कुमार मंटू को टिकट देगी।

चोकर बाबा 2015 के विधानसभा चुनाव में तब जदयू के प्रत्याशी रहे कृष्ण कुमार मंटू को पांच हजार से से अधिक मतों से हरा चुके हैं। अब उनका कहना है कि पार्टी उसे ही टिकट देने जा रही है, जिसे वे पहले ही हरा चुके हैं। उनका कहना है कि सिटिंग विधायक होने के नाते वे अभी इलाके में चुनाव प्रचार में लगे हुए थे। ऐसे वक़्त में उनका टिकट काटा जाना पार्टी में आतंरिक लोकतंत्र की कमी की ओर इशारा करता है।

अमनौर विधायक ने स्थानीय भाजपा सांसद राजीव प्रताप रुडी और डिप्टी सीएम सुशील मोदी पर आरोप लगाया है कि इलाके में उनकी लोकप्रियता से ये लोग घबरा गए हैं। उन्होंने इलाके के लोगों के लिए हमेशा काम किया है। उनकी रसोई से हजारों लोगों को खाना मिल रहा है। इन सबकी वजह से बड़े नेताओं ने मिलकर उनका टिकट कटवा दिया।

चोकर बाबा अब अपने टिकट काटे जाने का विरोध सन्यासी वाले अंदाज में करेंगे। इसके लिए उन्होंने अन्न-जल त्याग कर आजीवन फलाहार पर रहने का निर्णय लिया है। कहा कि वह संन्यासी की जिंदगी जीते हैं और अपना विरोध वह संन्यासी की तरह ही प्रकट करेंगे।

आधार कार्ड खो गया है, तो घर बैठें ऐसे निकाल सकते हैं डिजिटल कॉपी, जानिए तरीका

Leave a Comment!

error: Content is protected !!