अल्मोड़ा। कोरोना की वैश्विक महामारी के चलते पूरे देश में लॉकडाउन की वजह से जहां, अधिकतर सेवाएँ प्रभावित हैं ऐसे में मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1905 सभी प्रदेश वासियों के लिए वरदान के जैसे साबित हो रही है। यह कहना है अल्मोड़ा जिले के कनाई चौखाटिया गांव निवासी कैलाश गिरी गोस्वामी का। जिनके बेटे का इलाज दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल से चल रहा है। जो कि गम्भीर बीमारी से पीड़ित हैं। जिनकी जीवन रक्षक दवाईयां समाप्त हो गयी थी और स्थानीय मेडिकल की दुकानों पर वह उपलब्ध नहीं थी।
इन्होंने किसी के माध्यम से दिल्ली से दवाईयां डाकघर के माध्यम से मंगवाई, किन्तु लॉकडाउन के चलते दवाईयां पंहुच नहीं पायी। डाकघर से मालूम किया तो जानकारी मिली कि पार्सल काफी दिनों से मुरादाबाद डिपो में रुका हुआ है। फिर कैलाश ने मुख्यमत्री हेल्पलाइन 1905 पर सम्पर्क किया तथा अपनी समस्या बताई। जिसको हेल्पलाइन प्रबंधन द्वारा गम्भीरता से लिया गया एवं तत्काल मुख्यमंत्री कार्यालय को सूचित किया गया। जिस पर मुख्यमंत्री के निर्देश पर त्वरित कार्यवाही करते हुए मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा डाक विभाग से सम्पर्क किया गया और अगले ही दिन दवाईयां विशेष वाहन से मुरादाबाद से हल्द्वानी, काठगोदाम, अल्मोड़ा होते हुए उनके घर तक पंहुचा दी गयी।

जिस पर कैलाश गोस्वामी ने मुख्यमंत्री एवं सभी कोरोना योद्धाओं का धन्यवाद दिया है, जिन्होंने इस विषम भौगोलिक परिस्थितियों वाले क्षेत्र में इतनी विषम परिस्थितियों में मदद पंहुचायी। उन्होंने मुख्यमत्री उत्तराखंड श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत जी का हार्दिक धन्यवाद एवं आभार व्यक्त किया है।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here