हल्द्वानी। उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों की दोगुनी होने के दिनों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। आज औसत 71.54 दिन हो गया। इस खबर से उत्तराखंड के शासन प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने निश्चित रूप से राहत की सांस ली होगी।
हम आपको डिटेल में बताते हैं, जिले वार उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण दर की क्या स्थिति हैं। दरअसल अल्मोड़ा जिले में कोरोना का एक मात्र मरीज आज से 32 दिन पहले यानी पांच अप्रैल को मिला था। इसके बाद जिले भर में कोई भी केस सामने नहीं आया तो यहां केस दोगुने होने का सवाल ही नहीं उठता। अब बात करते हैं प्रदेश की राजधानी की जहां अभी तक कुल 34 कोरोना संक्रमितों की पहचान हो चुकी है। इनमें से बीस लोगों स्वास्थ्य लाभ करके अअपने घरों को जा चुके हैं। 13 लोगों का अभी जिले के अलग अलग कोविड चिकित्सालयों में इलाज चल रहा है। एक कोरोना संक्रमित महिला का निधन हो चुका है लेकिन उनकी मौत का कारण कोरोना नहीं बल्कि दिल का दौरा था। देहरादून में आखिरी केस 5 मई को सामने आया था। यानी दून में तीन दिन से कोई भी मरीज कोरोना पाजिटिव नहीं पाया गया है। इस जिले में कोरोना संक्रमितों के दो गुने होने की दर 52.53 दिन है।


अब बात की जाए गंगा धाम हरिद्वार की। यहां कुल अब तक कुल सात कोरोना पा​जिटिव पाए जा चुके हैं। इनमें से पांच लोग स्वास्थ्य लाभ के बाद हरिद्वार में 1 अप्रैल को कोरोना का आखिरी केस सामने आया था। इस अपने घरों को लौट चुके हैं और दो मरीजों का इलाज किया जा रहा है। प्रकार यहां अंतिम केस सामने आने के बाद 19 दिन बीत चुके हैं।
प्रदेश की पर्यटक राजधानी नैनीताल जिले में अब तक कुल दस कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें से आठ लोग स्वास्थ्य लाभ करने के बाद घर लौट चुके हैं। जबकि जिले में अंतिम मामला 24 अप्रेल को सामने आया था। इस तरह यहां 13 दिनों से कोरोना का एक भी केस सामने नहीं आया है।
पौड़ी जिले में 25 मार्च को कोरोना का एक मरीज मिला था। जिसका सफलता पूर्व उपचार करके उसे घर भेज दिया गया है। इसके बाद 43 दिन गुजर चुके हैं और कोरोना का जिले में कोई केस सामने नहीं आया है।
प्रदेश की औद्योगिक राजधानी उधम सिंह नगर में कोरोना के अब तक आठ मामले पकड़ में आ चुके हैं। जिनमें से चार ठीक हो चुके हैं और चार का इलाज सुशीला तिवारी चिकित्सालय हल्द्वानी में चल रहा है। यहां कोरोना संक्रमण का आखिरी मामला दो मई को सामने आया था। इस तरह से उधम सिंह नगर में पांच पिछले दिनों के भीतर कोई कोरोना पाजिटिव केस सामने नहीं आया है। दधम सिंह नगर में कोरोना के मामलों की दो गुनी होने की रफ्तार 10.32 दिन है।
इसके अलावा उत्तराखंड के किसी भी जिले में कोरोना का कोई संक्रमित मरीज नहीं पाया गया। सब को जोड़ने पर कोरोना की रफ्तार प्रदेश में 71.54 दिन हो गई है।


Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here