AlmoraJan SamasyaUttarakhand

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिये निर्णय के अनुसार गुरिल्लों को होमगार्ड में सीधे भर्ती किये जाने की मांग

जिला प्रांगण में धरने पर बैठे गुरिल्ले
40views

अल्मोड़ा। एसएसबी स्वंय सेवक कल्याण समिति का नौकरी, पेंशन एवं अन्य सुविधाओं की मांग को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय प्रांगण में दिया जा रहा धरना आज 3450 वें दिन भी जारी रहा। इस दौरान धरना स्थल पर हुई बैठक में वक्ताओं ने आंदोलन तेज करने के लिए व्यापक विचार—विमर्श किया। वक्ताओं ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा गुरिल्लों के ज्ञापनों के उत्तर में बार—बार यह लिखा जा रहा है कि केंद्र ने राज्य सरकार को गुरिल्लों की सूची भेजते हुए राज्य सरकार से गुरिल्लों को होमगार्ड एवं सिविल डिफेंस की भांति उपयोग किए जाने का अनुरोध किया है, किन्तु कुछ समय पूर्व जब राज्य में होमगार्ड में भर्ती हेतु विज्ञप्तियां जारी की गयी उनमेें गुरिल्लों के संबंध में कोई प्रावधान नही किया गया था, जबकि राज्य सरकार का गृह विभाग भी बार-बार यह दुहरा रहा है कि उनके स्तर से होमगार्ड की भर्ती में गुरिल्लों को पांच अंक दिये जाने के लिए आख्या डीजी होमगार्ड से मांगी गयी है। उन्होंने कहा कि डीजी, होमगार्ड कार्यालय में संपर्क करने पर बताया गया कि उनके द्वारा आख्या भेज दी गयी है। इसके बावजूद शासन द्वारा कोई निर्णय नही लिया जा रहा है। उन्होंने केन्द्र सरकार के पत्र एवं 5 सितम्बर एवं 19 दिसम्बर 2011 को मुख्य सचिव उत्तराखण्ड की अध्यक्षता मे संपन्न बैठक में लिए गये निर्णय के अनुसार गुरिल्लों को होमगार्ड में सीधे भर्ती किये जाने की मांग की। धरने में केन्द्रीय अध्यक्ष ब्रहमानंद डालाकोटी, जिलाध्यक्ष शिवराज बनौला, बिशन राम, सर्वजीत रौतेला, प्रयाग दत्त, जगदीश सिंह सुयाल, आनंदी महरा आदि लोग मौजूद थे।

Leave a Reply