धारी/च्यूरीगाड़। बैंक आफ बड़ौदा की च्यूरीगाड़ शाखा इसी नाम से आधुनिक सुविधाओं से युक्त व बेहतर नेटवर्क क्षेत्र वाले गुनियालेख गांव में स्थानांतरित हो गई है। सोमवार को शाखा प्रबंधक ने विधिवत पूजा अर्चना कराकर नए भवन में बैंक का कामकाज शुरू कराया। वहीं बैंक प्रबंधक पर मनमानी का आरोप लगाने वाले ग्रामीणों ने आरोपों से इंकार किया है। कहा है कि कुछ जनप्रतिनिधि उन्हें सीडीओ कार्यालय में गांव के विकास का ज्ञापन देने की बात कहकर ले गए थे और वहां बैंक प्रबंधक पर मनमानी संबंधी ज्ञापन सौंपकर उनका नाम भी ज्ञापन में शामिल कर दिया।

नए भवन में शाखा उदघाटन के दौरान उन्होंने प्रबंधक पर लगाए मनमानी के आरोपों से साफ इंकार किया। वहीं नए भवन में बैंक ग्राहकों को बैठने की पर्याप्त जगह मिलने के साथ ही पानी व शौचालय की भी सुविधा मिल सकेगी। साथ ही पुराने भवन में इंटरनेट कनेक्टिविटी की समस्या से प्रभावित होने वाला बैंक का काम भी सुचारू रूप से चल सकेगा। क्योंकि पुराना भवन सीलनयुक्त होने के साथ ही पहाड़ी के नीचे स्थित था। इससे आए दिन दिन इंटरनेट सेवा बाधित होने से ग्राहकों को बार-बार चक्कर लगाने पड़ते थे।

शाखा को सुविधाजनक स्थान में स्थानांतरित कराने में सरना के जिला पंचायत सदस्य सागर पांडे, कनिष्ठ ब्लाक प्रमुख कृपाल सिंह मेहता, कृषक समाज संगठन के अध्यक्ष खुशाल सिंह सम्मल का विशेष सहयोग रहा। इस दौरान ग्रामीणों ने भी बैंक के सुविधाजनक स्थल पर स्थानांतरित होने पर खुशी जताई। इस मौके पर वरिष्ठ नागरिक मायाराम बृजवासी, चन्द्रमोहन पनेरू, रवि शंकर, डीएन पनेरू, हरीश प्रधान, शेर सिंह, नारायण दत्त पांडे, शेखर बेलवाल, रजत रैक्वाल, जितेंद्र पौड़ियाल, जीवन तिवारी समेत तमाम लोग मौजूद थे।


Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here