PoliticsUdham Singh NagarUttarakhand

नैनीताल-उधमसिंहनगर लोकसभा सीट से कामरेड डॉ. कैलाश पाण्डेय होंगे माले प्रत्याशी

113views

लालकुंआ। उत्तराखंड में तीन वामपंथी पार्टियां यह लोकसभा चुनाव एक होकर लड़ेगी। यह फैसला 7 मार्च को देहरादून में माकपा कार्यालय में तीनों पार्टियों के राज्य सचिवों की आम सहमति से हुई बैठक में लिया गया था। यह जानकारी आज भाकपा (माले) राज्य साचिव कामरेड राजा बहुगुणा ने राज्य कार्यालय में हुई प्रेस वार्ता के दौरान दी। उन्होंने बताया कि ‘तीनों पार्टियां एक-एक सीट पर चुनाव लड़ रही हैं। भाकपा(माले) नैनीताल, माकपा टिहरी तथा भाकपा गढवाल संसदीय सीट से अपना उम्मीदवार उतारेंगी। उन्होंने कहा कि नैनीताल संसदीय सीट से ‘माले’ नेता कामरेड डॉ. कैलाश पाण्डेय वाम पार्टियों के साझा उम्मीदवार होंगे। टिहरी सीट व गढ़वाल सीट के उम्मीदवारों की घोषणा माकपा व भाकपा के राज्य सचिव शीघ्र करेंगे। उन्होंने कहा कि कामरेड कैलाश पांडेय एक बेहतरीन अकादमिक योग्यता रखने वाले व गढ़वाल विवि के गोल्ड मेडलिस्ट रहे हैं। वे सामाजिक परिवर्तन की लड़ाई को आगे बढ़ाने के लिए अपना जीवन समर्पित किए हुए हैं। राजा बहुगुणा ने कहा कि, “देश में लाल झंडे ने ही साम्प्रदायिक-फासीवाद के विरूद्ध जमीनी स्तर पर अनवरत संघर्ष चलाया है। इसलिए इस चुनाव में भी लाल झंडा आम जन के बुनियादी सवालो के साथ ‘युद्ध नहीं शांति चाहिए,हर हाथ को काम चाहिए’ नारे को बुलंद करेगा। भाकपा (माले) प्रत्याशी कामरेड कैलाश पाण्डेय ने कहा कि, “पिछले पाँच सालों में कभी लगा ही नहीं कि नैनीताल-उधमसिंहनगर लोकसभा क्षेत्र से कोई संसद में यहां का प्रतिनिधित्व करता है। उन्होंने कहा कि, “असल में भाजपा के पास यहां के सवालों को हल करके जनता के विकास को आगे बढ़ाने का कोई विजन ही नहीं है, वे केवल भावनायें और उन्माद भड़काने की राजनीति करने की नीति पर ही चलते रहे हैं। इसीलिए भाजपा के सांसद, विधायक, मंत्री नकारा साबित हो रहे हैं। प्रेस वार्ता के दौरान कामरेड आनंद सिंह नेगी, बहादुर सिंह जंगी, कैलाश पाण्डेय, विमला रौथाण, ललित मटियाली भी मौजूद रहे।

Leave a Response