BAGESHWER NEWS: जिला मुख्यालय पर गहराने लगा पेयजल संकट, टैंकरों से पानी बांटने की नौबत आई

28
बागेश्वर में टैंकर से पानी भरते लोग।

सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर
जिले में गर्मी का प्रकोप बढ़ने के साथ ही पेयजल संकट पैदा होने लगा है। मुख्यालय के कई मोहल्लों में पानी का संकट बना हुआ है। वहीं ग्रामीण क्षेत्र भी पानी को तरस रहे हैं।

जिला मुख्यालय के तहसील रोड, मंडलसेरा में पानी की समस्या बनी हुई है। नौबत ये है कि इस क्षेत्र में जल संस्थान कैंटर से पानी की आपूर्ति कर रहा है। किसी मोहल्ले में तीन दिन तो कहीं चार दिन से पानी का संकट बना हुआ है। तहसील रोड में टैंकर से पानी की सप्लाई आते लोगों की भीड़ जुट रही है। क्षेत्र के हरीश मनराल, राजेंद्र उपाध्याय, रमेश सिंह, गोविंद सिंह आदि ने बताया कि कई बार जल संस्थान से शिकायत कर दी गई है, किंतु समस्या का समधान नहीं हो रहा है।

उत्तराखंड में काबू में नही आ रहा कोरोना, आज 5 हजार 606 आये संक्रमण की चपेट में, 71 की मौत, जानिये अपने जिले का हाल….

प्राकृतिक जल स्रोतों से पानी भरने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। कई बार तो वहां भी घंटों खड़े होने के बाद भी पानी नही मिल रहा है। क्षेत्रवासियों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर पानी की समस्या का समाधान नही हुआ तो आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा। इधर दाणूथल सहित कई जगहों पर पानी की कमी है। जलसंस्थान के अवर अभियंता वीरेंद्र कुमार ने कहा कि थाला-सानिउडियार योजना के स्रोत में पानी की कमी हो गई है। लाइनमैन को रोस्टर के अनुसार पानी की आपूर्ति कर रहे हैं।
खरही मंडल के सिमस्यारी गांव में भी पेयजल संकट गहराने लगा है।

गांव की पेयजल योजना ध्वस्त होने से नलों से पानी की आपूर्ति नहीं हो रही है। गर्मी के चलते प्राकृतिक स्रोतों में भी पानी नहीं बचा है। कई बार ग्रामीणों ने विभाग को परेशानी बताई, समस्या का निदान न होने पर महिलाओं में नाराजगी है। उन्होंने कहा कि जल्द पेयजल किल्लत को दूर नहीं किया गया तो आंदोलन किया जाएगा। जल संस्थान के अधिशासी अभियंता सी एस देवड़ी ने बताया कि जल संस्थान द्वारा पेयजल आपूर्ति रोस्टर द्वारा की जा रही है। कुछ स्थानों से अनियमित पेयजल आपूर्ति की शिकायत मिली है जहाँ पर विभागीय अभियंताओं को भेजकर पेयजल आपूर्ति सुचारू कर दी जाएगी।

दर्दनाक, और कितनी जानें लेगा कोरोना : Covid infection के चलते Home isolation में रह रहे पिता-पुत्र की मौत, चार दिन तक शवों के साथ रही दिव्यांग पत्नी

नैनीताल जिले में एस्कॉर्ट के साथ निर्विघ्न अस्पताल तक पहुंचेगी प्राणवायु ‘ऑक्सीजन‘; ग्रीन कॉरिडोर बनाकर एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने किया चौकस इंतजाम

Big Breaking : दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री के पिता का कोरोना संक्रमण से निधन, केजरीवाल ने दी श्रद्धांजलि

Previous articleBAGESHWER NEWS: न तो ऑक्सीजन की कमी रहे और न ही कोरोना मरीजों को दिक्कत हो-चुफाल, काबिना मंत्री ने वीसी के जरिये ली बैठक
Next articleAlmora Breaking : कोरोना का कहर : 24 घंटे में मिले 223 नए पॉजिटिव केस, 79 शहर से, 1 हजार 245 एक्टिव केस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here