सीएनई रिपोर्टर, सोमेश्वर

शासन—प्रशासन व संबंधित विभाग की लापरवाही के चलते 05 हजार की आबादी को पेयजल मुहैया कराने के लिए बनाई गई पलयूडा हटयूडा मुख्य बाजार की पेयजल योजना लगभग एक सप्ताह से बन्द पड़ी है।

पलयूडा के सामाजिक कार्यकर्ता गिरीश चन्द्र पाण्डेय ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि 50 वर्ष पहले झिपुलचोरा से पलयूडा योजना ग्रामीणों को पेयजल मुहैया कराने के लिए लिए बनायी गयी थी। लगभग पांच हजार की आबादी पीने के पानी के लिए इस योजना पर निर्भर है, लेकिन विभागीय अधिकारियों द्वारा कामचलाऊ योजना बनाकर इतिश्री कर दी गई है। पुरानी पेयजल योजना होने से जगह—जगह पाइप लाइन क्षतिग्रस्त है, जिसका खामियाजा पेयजल उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ रहा है। पेयजल योजना के होते हुए भी आम लोग नदी, नौलों आदि प्राकृतिक जल श्रोतों पर निर्भर हैं।


👉👉  ताजा खबरों के लिए WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारी कुम्भकर्णी नींद में सोते नजर आ रहे हैं। जल संस्थान ग्रामीणों को पेयजल आपूर्ति करने में नाकाम नजर आ रहा है। पेयजल आपूर्ति न होने से पलयूडा हटयूडा मुख्य बाजार के ग्रामीण परेशान हैं। उन्होंने कहा कि इसके अलावा सोमेश्वर कोसी सांई नदी संगम से करोड़ों रुपए की निमार्णाधीन पंपिंग योजना का कार्य भी कछुआ गति से चल रहा है, जो अभी तक पूर्ण नहीं हो पाया है। पाइल लाइन विछायी गयी है, लेकिन कार्य अभी तक करोड़ों की स्वीकृति के बावजूद पूरा नहीं हो पाया है।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here