अल्मोड़ाउत्तराखंड

ALMORA NEWS: हरिद्वार व उधमसिंहनगर के किसानों ने अल्मोड़ा में वैज्ञानिकों से सीखी कृषि तकनीक

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा
विवेकानन्द पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, अल्मोड़ा के प्रयोगात्मक प्रक्षेत्र हवालबाग में डीबीटी बाय¨टेक किसान परिय¨जना के तहत ‘रबी फसलों का बीजोत्पादन’ विषयक तीन दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित हुआ। गत 9 से 11 फरवरी तक चल इस प्रशिक्षण में हरिद्वार, सितारगंज व उधमसिंहनगर के 20 कृषकों ने हिस्सा लिया।
कार्यक्रम में कृषकों को रबी फसलों में बीजोत्पादन की सामान्य विधियों से रूबरू कराया गया। फसलों में गेहूं व अन्य मटर, शिमला मिर्च, टमाटर इत्यादि सब्जियोें तथा दलहनी व तिलहनी फसलों में बीज उत्पादन की विधियां बताई। कृषकों क¨ संस्थान के प्रशिक्षण फार्म में ले जाकर रबी फसलों के बीज उत्पादन का व्यवहारिक ज्ञान दिया गया। वहीं विषय विशेषज्ञों ने उनकी शंकाओं का निदान किया। साथ ही कृषि संबंधी अभियांत्रिकी तथा मशीनरी की जानकारी दी। किसानों को आय अर्जक उन्नत कृषि तकनीकों, मशरूम उत्पादन और बे-म©समी सब्जी उत्पादन के बारे में समझाया। संस्थान की गतिविधियों से भी अवगत कराया। बीज उत्पादन तथा भंडारण के द©रान होने वाले र¨गों तथा कीटों के बारे में किसानों को जानकारी दी गई। प्रशिक्षण में संस्थान के कार्यक्रमों से जुड़कर लाभ कमाने का आह्वान किया गया।
अल्मोड़ा वन प्रभाग के डीएफओ महातिम यादव ने “पर्वतीय कृषि में वन्य जीवों से नुकसान से बचाव हेतु विधिक सलाह एवं प्रबन्धन” विषयक व्याख्यान दिया। संस्थान के निदेशक डाॅ. लक्ष्मी कान्त ने कृषक¨ं से कृषि में उन्नत, वैज्ञानिक विधि क¨ अपनाकर उत्पादकता, उत्पादन व आय बढ़ाने का आह्वान किया। इस मौके पर कृषकों क¨ प्रशिक्षण से संबंधित पुस्तिका भी प्रदान की गई। कार्यक्रम में कृषक दल का नेतृत्व कर रहे हैस्को, देहरादून से जुड़े तकनीकी अधिकारी मनमोहन सिंह नेगीे समेत समन्वयन डाॅ. रेनू जेठी, डाॅ. नवीन चन्द्र, वैज्ञानिक डा. एनके हेडाऊ, डा. केके मिश्रा, डा. शेर सिंह, डा. दिवाकर महंता, डा. अनुराधा भारतीय, डा. वासुदेव, डा. जितेन्द्र कुमार तथा तकनीकी अधिकारी नरेन्द्र पाठक, जेपी गुप्ता तथा शिव सिंह आदि कई लोग शामिल रहे।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!