उत्तराखंड : कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल के कार्यालय के बाहर खड़ी कार में लगी आग
कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल के कार्यालय के बाहर खड़ी कार में लगी आग

कैबिनेट मंत्री के कार्यालय के बाहर खड़ी कार में लगी आग

देहरादून/ऋषिकेश। यहां कैबिनेट मंत्री के कैंप कार्यालय के बाहर खड़ी एक कार में संदिग्ध परिस्थितियों में आग लग गई। सूचना पर मौके पर पहुंचे दमकल दस्ते ने आग पर काबू पाया। मगर, तब तक कार पूरी तरह से जलकर कबाड़ बन चुकी थी।

मिली जानकारी के मुताबिक ऋषिकेश के वीरभद्र मार्ग पर सिंचाई विभाग की कॉलोनी स्थित कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल (Cabinet Minister Premchand Agarwal) के कैंप कार्यालय के बाहर खड़ी एक लाल रंग की अल्टो कार संख्या UK08AR-3145 में गुरुवार दोपहर कार के अगले हिस्से में आग लग गई। और देखते ही देखते आग की लपटें पूरी कार में फैल गई। और पलभर में खड़ी कार पूरी तरह से जलकर कबाड़ बन गई।

कर्मचारियों ने बाल्टी लेकर किया आग बुझाने का प्रयास

कार में आग लगने से आसपास क्षेत्र में हड़कंप मच गया। इस कार के आसपास कुछ अन्य वाहन भी पार्क थे। आग में लगी आग को देखकर कैबिनेट मंत्री के कैंप कार्यालय में तैनात कर्मचारियों ने पानी की बाल्टी लेकर आग बुझाने का प्रयास किया। आग इतनी भीषण रूप ले चुकी थी कि बुझाई नहीं जा सकी। सूचना पाकर दमकल कार्यालय से दमकल कर्मी फायर टेंडर के साथ मौके पर पहुंचे। जिसके बाद आग पर काबू पाया जा सका। मगर, तब तक पूरी कार जलकर कबाड़ बन गई थी। गनीमत रही कि आसपास की अन्य कारों में आग नहीं फैली और किसी व्यक्ति को भी कोई नुकसान नहीं पंहुचा।


कैबिनेट मंत्री के जनसंपर्क अधिकारी ने बताया

कैबिनेट मंत्री के जनसंपर्क अधिकारी ताजेंद्र सिंह नेगी ने बताया कि जिस वक्त कार में आग लगी तब कार में कोई भी मौजूद नहीं था उन्होंने बताया कि कार में आग लगने की सूचना कैंप कार्यालय से ही दमकल विभाग को दी गई। यह कार किसकी है यह भी अभी तक पता नहीं चल पाया है। पुलिस के मुताबिक कार के नंबर (यूके 08 एआर- 3145) जनपद में पंजीकृत है। कार के स्वामी की जानकारी जुटाई जा रही है।

संजीवनी हॉस्पिटल हल्द्वानी के संचालक डा. महेश कुमार कश्मीर की तारसर झील में डूबे

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here