सीएनई रिपोर्टर, देहरादून

जाने माने लोक गायक और कलाकार नवीन सेमवाल अब हमारे बीच नहीं रहे। आज मंगलवार की प्रात: 6 बजेकर 30 मिनट पर उन्होंने देहरादून के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली। वह टीबी की बीमारी से ग्रस्त थे।

उल्लेखनीय है कि नवीन सेमवाल एक सुप्रसिद्ध लोक गायक थे। उनके एलबमों को काफी पसंद किया जाता रहा है। ‘मेरी बामणी’ गीत ने उन्हें काफी लोकप्रियता दिलाई थी।


नवीन सेमवाल काफी समय से बीमार थे। उनका टीबी रोग असाध्य हो चला था। गत 12 जून को उन्हें देहरादून के हिमालयन अस्पता में भर्ती किया गया था। जहां​ डाक्टर उनके उपचार में जुटे थे, लेकिन आज मंगलवार को वह जिंदगी की जंग हार गये।

उनके निधन से सांस्कृतिक जगत में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। तमाम लोगों ने गहरी शोक संवेदना जाहिर की है। सेमवाल रुद्रप्रयाग के फाटा गांव के मूल निवासी थी। जबकि, वर्तमान में वह अपने परिवार के साथ रुद्रप्रयाग के बेलनी गांव में निवासरत थे। उन्होंने बामणी टू, संजू का बाबा, ओ रे स्वीटी, पांगरी का मेला, गंगाराम, फागुणै फुलार सहित कई गीत गाए और सशक्त अभिनय भी किया। कई लघु फिल्मों में हास्य कलाकार के रूप में भी भूमिका निभाई थी। उनका निधन एक अपूरणीय क्षति है।

Breaking: इस गांव में हो रही भांग की खेती, डीएम ने दिए 10 लाख

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here