मुंबई। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण कोविड-19 के 20 लाख करोड़ के राहत पैकेज के ब्रेकअप की जानकारी दे रही हैं। सीतारमण ने बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समाज के कई हिस्सों से विस्तार से चर्चा के बाद इस पैकेज का विजन रखा था और हमारा लक्ष्य आत्मनिर्भर भारत है। यह पैकेज देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए है। वित्त मंत्री ने कहा कि स्पेशल पैकेज में से लघु एवं मध्यम उद्योगों यानी एमएसएमई के लिए 3 लाख करोड़ रुपए का लोन दिया जाएगा। पहले 12 महीने इस लोन पर कोई मूल धान वापस नहीं करना हागा। बाकी के तीन सालों में लोन चुकता करना होगा।
इस पैकेज का ऐलान प्रधानमंत्री ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम दिए अपने संदेश में किया था। मोदी ने अपनी स्पीच में चार एल यानी लैंड, लेबर, लॉ और लिक्विडिटी पर फोकस किया था यानी पैकेज में इन्हें खास तवज्जो दी जा सकती है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here