अल्मोड़ाउत्तराखंड

अल्मोड़ा : सरकार और विभाग को अब आमरण अनशन की धमकी, बिट्टू ने फिर ज्ञापन भेज सड़कों की याद दिलाई

सीएनई संवाददाता, अल्मोड़ा
दिनांक — 1 सितंबर, 2020

सड़कों की दयनीय स्थिति में सुधार की मांग की ओर एनआरएचएम उत्तराखंड के पूर्व उपाध्यक्ष बिट्टू कर्नाटक ने फिर मुख्यमंत्री का ध्यान खींचा है। उन्होंने जिलाधिकारी के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भेजकर चेताया है कि यदि अविलंब सड़क सुधार का कार्य शुरू नहीं हुआ, तो 9 सितंबर से आंदोलन चल पड़ेगा और लोनिवि के ईई दफ्तर के समक्ष आमरण अनशन शुरू किया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि पूर्व दर्जा मंत्री बिट्टू कर्नाटक लंबे समय से जिले की सड़कों का सुधारीकरण कार्य की मांग को लेकर आंदोलित हैं। उन्होंने कई बार ज्ञापन भेज दिए हैं और चरणबद्ध आंदोलन कर रहे हैं। गत 24 अगस्त को उन्होंने एनटीडी में चक्काजाम किया था। उसी दिन संबंधित विभाग और सरकार को चेतावनी दी थी कि यदि 15 दिनों के भीतर सड़कों की मरम्मत व सुधारीकरण का कार्य आरंभ नहीं हुआ, तो वे आमरण अनशन को बाध्य होंगे। इधर मंगलवार को उन्होंने जिलाधिकारी के माध्यम से ​मुख्यमंत्री तथा विभागीय अधिकारियों को फिर ज्ञापन प्रेषित किए हैं। जिसमें उक्त समयावधि की याद दिलाई है। ज्ञापन में कहा है कि सड़कों के सुधारीकरण व मरम्मत की प्रगति से अवगत कराने का अनुरोध किया है। ज्ञापन के माध्यम से सरकार व विभाग को फिर अन्तिम चेतावनी दी है कि सड़कों के मरम्मत व सुधारीकरण कार्य प्रारम्भ किया जाय अन्यथा 9 सितंबर से वह विवश होकर चरणबद्ध तरीके से राष्ट्रीय राजमार्ग, लोनिवि के प्रान्तीय खण्ड व निर्माण खण्ड के अधिशासी अभियन्ता कक्ष के समक्ष आमरण अनशन शुरू कर देंगे।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!