अल्मोड़ाउत्तराखंड

अल्मोड़ाः कृषि उत्पादों को आजीविका का साधन बनाने की सीख दे रहे वैज्ञानिक डॉ राजेश कुमार

महिलाओं को जानकारी देते डा. राजेश कुमार।

अल्मोड़ा। कृषि विज्ञान केंद्र मटेला, अल्मोड़ा के वैज्ञानिक डॉ राजेश कुमार ने वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण काल मेें स्वयं सहायता समूह के जरिये महिलाओं को महिला सशक्तिकरण के बारे में जागरूक करने का अभियान जारी रखा है। उनके द्वारा महिलाओं को आजीविका बढ़ाने के लिए मोमबत्ती, अगरबत्ती, धूपबत्ती बनाना आदि लघु उद्योगों एवं स्थानीय उत्पादों जैसे मडुवे का आटा, गहत, काला भट्ट, झंगोरा का चावल, धनिया, मिर्च, हल्दी आदि के कारोबार को बढ़ाने की तरकीबें बताई जा रही हैं। साथ ही इन्हें मूल्यवर्धन करके उनकी ग्रेडिंग, पैकिंग के गुर सिखाएं जा रहे हैं। स्वयं सहायता समूूूूह के माय्यम से राज्य सरकार द्वारा दी जा रही सुविधाओं का लाभ उठाने का आग्रह किया जा रहा है। साथ ही विभिन्न विभागों की योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी जा रही है। साथ ही स्थानीय युवाओं को ऐसे कृषि पैदावार करने के लिए कहा, जिन्हें बंदर, सूअर आदि जंगली जानवर कोई नुकसान नहीं पहुंचाते। ऐसी फसलों के बारे में युवाओं को बहुत से स्वरोजगार व्यवसायों के बारेे में जानकारी प्रदान की गई है। इसके साथ ही उपस्थित महिलाओं एवं युवाओं से राज्य सरकार द्वारा कोरोना महामारी के संबंध में दिए जा रहे आवश्यक दिशा-निर्देशों का पालन करने की अपील की जा रही है।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!