हेम जोशी

लालकुआं। एम्स ऋषिकेश में भर्ती लालकुआं निवासी महिला के कोरोना पाजिटिव पाए जाने के बाद यहां हड़कंप मच गया है। रिपोर्ट आने के बाद यहां के वार्ड नंबर 5, सुभाषनागर में स्वास्थ्यकर्मी व खुफिया तंत्र से जुड़े लोग महिला के आवास पर पहुंच गए और महिला व उनके परिवार के बारे में विवरण्ध एकत्रित किया। महिला के पति को मेडिकल टीम सैंपलिंग के लिए सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी लेगई है। उनका 28 वर्षी बेटा पहले से ही अपनी मां के साथ ऋषिकेश में ही है।

उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या हुई 54, आज ऋषिकेश एम्स में मिले तीन केस- पढ़िए…


उनका दूसरा 22 वर्षीय बेटा नोएडा में नौकरी करता है लेकिन उसके दो तीन महीने से लालकुआं में आने की कोई जानकारी नहीं है। उनकी एक 24 वर्षीय बेटी लखनऊ में है। वह वहां कोचिंग करती है लेकिन वह भी इन दिनों मां के साथ ऋषिकेश में ही है। पूछताछ में पता चला कि उनकी एक विवाहित बेटी भी है लेकिन वह भी काफी समय से मायके नहीं आई है पता चला है कि महिला दो मार्च को ब्रेन हैमरेज होने के कारण सुशीला तिवारी अस्पताल लेजाया गया था, जहाँ से उसी दिन बृजलाल हॉस्पिटल हल्द्वानी में उपचाराधीन रही। नौ मार्च से 19 अप्रैल तक वह विवेकानंद अस्पताल हल्द्वानी में भर्ती रहीं।

19 अप्रैल को उन्हें विवेकानंद अस्पताल से एसआरएमएस अस्पताल भोजीपुरा बरेली ले जाया गया। जिसके लिए सुशील तिवारी हॉस्पिटल हल्द्वानी के समीप से इनके द्वारा प्राइवेट एम्बुलेंस की गई। एम्बुलेंस व चालक के संबंध में जानकारी परिजनों के पास नहीं है। 22 अप्रैल को उन्हें एसआरएमएस भोजीपुरा बरेली से एम्बुलेंस के मध्यम से एम्स ऋषिकेश पहुंचाया गया।

लेटेस्ट ख़बर के लिए जुड़िये हमारें व्हाट्सएप्प ग्रुप से,
https://chat.whatsapp.com/
DgdwsJJqlSTGKfpD5GJ6vb

https://www.creativenewsexpress.com/corona-confirmed-in-two-people-in-aiims/
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here