सीएनई रिपोर्टर, हल्द्वानी

भारत में लंग कैंसर ग्लोबल किलर के रूप में उभर रहा है। ग्लोबाकैन 2020 की रिपोर्ट के अनुसार भारत में विभिन्न प्रकार के कैंसर में फेफड़े का कैंसर चौथे स्थान पर है, जबकि पुरूषों में यह सबसे ज्यादा फैल रहा है। लंबे कैंसर के बढ़ते मामलों को देखते हुए मैक्स अस्पताल पड़पड़गंज ने हल्द्वानी में अपनी सेवाओं का विस्तार करते हुए थोरैसिस सर्जरी ओपीडी सेवा शुरू की है। यह बात मैक्स हाॅस्पिटल के डॉ. प्रमोज जिंदल ने कही।

गुरूवार को रामपुर रोड स्थित मैक्स हाॅस्पिटल पटपड़गंज में थोरैसिस एंड रोबोटिक थोरैसिस सर्जरी के निदेशक डॉ. प्रमोज जिंदल ने मीडिया से बातची में कहा कि ओपीडी सेवा हल्द्वानी के नीलकंठ हाॅस्पिटल में हर महीने के चौथे गुरुवार को 12 बजे से दोपहर 3 बजे तक उपलब्ध रहेगी। जहां टर्शियरी देखभाल और थोरैसिक सर्जरी पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। टर्शियरी केयर संबंधी परामर्श देने के लिए वह खुद ही मौजूद रहेंगे। डॉ. जिंदल ने कहा महामारी और लाॅकडाउन के कारण ज्यादातर मरीज दूरदराज जाकर विशेषज्ञों की राय नहीं ले पाते है। उन्होंने कहा कि हल्द्वानी में ओपीडी सेवा शुरू होने से स्थानीय निवासियों को प्राथमिक परामर्श लेने के लिए कहीं जाने की जरूरत नहीं होगी। हल्द्वानी में ही विशेषज्ञ डाक्टरों की उपलब्ध्ता होने से उन्हें बहुत लाभ होगा।

डॉ. जिंदल ने कहा आज के युग में अच्छी सेहत बनाए रखना सबसे बड़ी चुनौती है। खानपान, प्रदूषण, लाइफ स्टाइल, बैक्टीरिया, वायरस जैसी हर चीज अच्छी सेहत की दुश्मन बनी हुई हैं। कोविड के दौरान अच्छी सेहत का ख्याल रखना कहीं ज्यादा मुश्किल हो गया है। नीलकंठ अस्पताल के डॉ. गौरव सिंघल ने लंग कैंसर का पता चौथे चरण में पता चलता है, लेकिन तकनीक इतनी आधुनिक हो गई है कि शुरूआती चरण में ही लंग कैंसर के लक्षणों की जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

👉👉  ताजा खबरों के लिए WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here