मोटाहल्दू। कोरोना वायरस ने इतनी दहशत मचा रखी है कि अब एक जिले के लोग ही क्षेत्रवाद को लेकर आपस में लड़ने झगड़ने लग गए हैं। विदित हो कि मोटाहल्दू स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में इन दिनों गौला नदी में खनन कार्य करने वाले वाहन चालकों व श्रमिकों के नदी में खनन कार्य करने से पूर्व स्वास्थ्य विभाग द्वारा जांच कर जारी स्वास्थ्य मेडिकल चेक होने के बाद ही उन्हें खनन कार्य करने की अनुमति दी जा रही है। इसलिए वाहन चालकों व श्रमिकों में अपना-अपना स्वास्थ्य परीक्षण कराने को लेकर अफरा-तफरी मची हुई है।

आज मामला तब गरमा गया जब इंदिरा नगर, बनभलपुरा व आसपास के क्षेत्र के लोग मेडिकल बनाने को लेकर सैकड़ों की संख्या में मोटाहल्दू स्वास्थ्य केंद्र में पहुंच गए, विगत दिनों बनभलपुरा क्षेत्र में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के मिलने से ग्रामीण क्षेत्र के लोगों में अभी भी दहशत व्याप्त है इतनी अधिक संख्या में इन लोगों के यहां पहुंचने से जनप्रतिनिधियों व ग्रामीणों ने रोष व्यपात है, ग्राम सभा पदमपुर देवलिया के ग्राम प्रधान रमेश चंद जोशी ने स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी हरीश चंद्र पांडे से कहा कि इन लोगों के मेडिकल इनके गृह क्षेत्र में ही कराए जाएं जिससे ग्रामीणों में कोरोना का भय नहीं फैलेगा। जिस प्रकार लोग यहां पहुंच रहे हैं और शोशियल डिस्टेंस का पालन बिल्कुल नहीं कर रहे हैं, जिससे कोरोना फैलने का खतरा बढ़ रहा है। स्वास्थ्य केंद्र की ओर से मिली जानकारी के अनुसार बनभलपुरा इंदिरानगर वह आस-पास के इलाके के वाहन चालकों के स्वास्थ्य परीक्षण उनके खनन निकासी गेट या चिन्हित क्षेत्रों में किए जाएंगे जिनके लिए यहां से टीमें भेजी जा रही है। उक्त प्रकरण को गरमाया देख हल्दूचौड़ चौकी से पुलिस बल मौके पर पहुंचा और उन्होंने सभी को समझा कर मामले को शांत कराया।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here