सांकेतिक तस्वीर

नैनीताल| नैनीताल मुख्य कोषाधिकारी दिनेश राणा ने जानकारी देते हुए बताया कि जनपद के समस्त पेंशनरों को सूचित करना है कि वर्तमान में साईबर ठग कोषागार के अधिकारी एवं कर्मचारी बनकर पेंशनरों को जीवित प्रमाण पत्र के सम्बन्ध में कॉल कर उनसे डाटा मांग रहें हैं।

डाटा प्राप्त होने पर पेंशनरों के खाते से धनराशि निकाल कर पेंशनरों को चपत लगा रहें हैं। राणा ने बताया कि विगत दिनों इस प्रकार की घटना कोषागार हल्द्वानी में घटित हो चुकी हैं, जिसमें साईबर ठग द्वारा स्वंय को कोषाधिकारी बताकर पेंशनर को फोन किया तथा उनके व्हाट्सप पर एक फार्म भेजा व पेंशनर से फार्म भरवाकर पेंशनर की पूर्ण जानकारी प्राप्त करने के तुरन्त बाद पेंशनर के खातें से 10.5 लाख अवैध तरीके से हड़प लिये गये।

मुख्य कोषाधिकारी ने समस्त पेंशनरों से अपील की है कि पेंशनर अपने पेंशन सम्बन्धित कोई भी डिटेल फोन पर या व्हाट्सप पर किसी से भी साझा ना करें। उन्होंने कहा कि कोषागार द्वारा पेंशनरों से कोई भी सूचना फोन पर या व्हाट्सप पर नहीं मांगी जाती है।


अगर इस प्रकार की कोई भी कॉल या मैसेज प्राप्त होता है तो इसके बारे में मुख्य कोषाधिकारी नैनीताल के 9997917888, कोषाधिकारी हल्द्वानी 9917612951, उप-कोषाधिकारी कालाढूंगी 9997208445, रामनगर 9012373850, धारी 8057646269, कोश्याकुटौली 8077391937 व बेतालघाट 9528202775 संपर्क कर सकते हैं।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here