नैनीताल। सरोवर नगरी में संचालित बीडी पाण्डे चिकित्सालय पुरूष में विगत दिनों जिलाधिकारी सविन बंसल ने व्यापक निरीक्षण किया था। निरीक्षण में एक्सरे मशीन तथा जनरेटर की नितांत आवश्यकता बताई गयी थी। स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति संवेदनशील जिलाधिकारी बंसल ने विगत 6 माह पूर्व बीडी पाण्डे चिकित्सालय के लिए आधुनिक एक्सरे मशीन तथा जनरेटर की व्यवस्था करा दी थी। परन्तु चिकित्सालय प्रबन्धन ठेकेदारों तथा एक्सरे कम्पनी के लोगों की लापरवाही के चलते मौजूदा समय तक ना तो एक्सरे मशीन लगी और ना ही जनरेटर। इस बात पर नाराज जिलाधिकारी ने सीएमएस से नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने शनिवार की सुबह उपजिलाधिकारी विनोद कुमार को बीडी पाण्डे चिकित्सालय में व्यवस्थाओं को परखने के लिए भेजा। उपजिलाधिकारी ने लगभग दो घंटे चिकित्सालय का निरीक्षण किया। उन्होंने बीडी पाण्डे चिकित्सालय के प्रमुख चिकित्साधीक्षक डा. केएस धामी को निर्देश दिये कि तीन दिन के भीतर एक्सरे मशीन तथा जनरेटर स्थापित कर क्रियाशील करें, यदि निर्धारित अवधि मे यह सुविधायें बहाल नहीं होती हैं तो आपदा प्रबन्धन एक्ट के अन्तर्गत मुकदमा दर्ज कराया जायेगा तथा सम्बन्धित एक्सरे मशीन व जनरेटर लगाने वाले ठेकेदार तथा अभियन्ताओें के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करायी जायेगी।

उपजिलाधिकारी ने बताया कि चिकित्सालय में वर्तमान मे 250 सेनेटाइजर, 9419 ट्रिपल लेयर मास्क, 150 बीटीएम, 67 पीपीई किट, 295 एन-95 मास्क, दो वेंटिलेटर तथा चार आईसीयू बैड उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि एक्सरे मशीन के लिए कक्ष तैयार किया जा रहा है तथा एक्सरे मशीन स्थापित करने के लिए कम्पनी के अभियन्ताओं को बुला लिया गया है तथा जनरेटर की स्थापना के लिए ठेकेदार द्वारा प्लेटफार्म का निर्माण शुरू कर दिया गया है दो तीन दिन बाद पुनः इन कामों का निरीक्षण किया जायेगा। उन्होंने निरीक्षण के दौरान सभी चिकित्सकों एवं स्टाफ से कहा कि वह संक्रमण के इस दौर में आम तथा गरीब मरीज को सेवाभाव के साथ स्वास्थ्य सेवायें उपलब्ध करायें। निरीक्षण के दौरान डा. एमएस दुग्ताल, डा. अनुरूद्व गंगोला, डा. प्रियांशु श्रीवास्तव, डा. आरके वर्मा के अलावा पूर्व अध्यक्ष भाजपा मनोज जोशी तथा शशि पाण्डे, एमएल चुनेटा, सीएस ताकुली तथा आईके जोशी आदि मौजूद थे।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here