लालकुआं। अति उत्साह कहीं पर भी भारी पड़ सकता है। भारी ही नहीं अति उत्साह में कई बार लेने के देने भी पड़ सकते हैं। ऐसा ही कुछ हुआ है उस व्यक्ति के साथ जिसने कल हल्दूचौड़ की सोयाबीन फैक्ट्री के अनाज गोदामों के क्वारेंटाइन किए गए लोगों के सूची सोशल मीडिया पर जारी कर दी। इस सूची में न सिर्फ क्वारेंटाइन किए गए लोगों के नाम और पते थे। बल्कि उनके मोबाइल नंबर भी दर्ज थे। उन्हें कहां फैसेलिटी क्वारेंटाइन किया गया यह भी लिखा था। देखते ही देखते यह सूची सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। अब पुलिस के आला अधिकारियों ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

दरअसल कोरोना पीड़ितों, उनके परिजनों और क्वारेंटाइन किए गए लोगों के नाम सार्वजनिक करने की परंपरा नहीं है। लेकिन इस सूची में सभी के नाम सार्वजनिक हो गए थे और समाज में लोगों उनके परिवारों से भी दूरी बनाने लगे। मामले की जांच शुरू होते ही सोशल मीडिया पर ज्यादा सक्रिए रहने वाले पुलिस व स्वास्थ्य विभाग से जुड़े लोगों के माथे पर पसीने की लकीरें दिखने लगी हैं। विभाग में इस सूची को जारी करने वाले व्यक्ति के नामों के कयास लगाए जानो शुरू हो गए हैं।

यदि आप हमारे पूर्व के किसी व्हाट्सएप ग्रुप से नही जुड़े हैं तो नीचे दिये लिंक पर क्लिक कर तत्काल कीजिए ज्वाइन और अपने मोबाइल पर प्राप्त कीजिए सबसे विश्वसनीय और लेटस्ट ख़बरें —


https://chat.whatsapp.com/F0j3WLuZ4Xl9NTIgXYlfW9

कोरोना पीड़ित की उत्तराखंड में पहली मौत, लालकुआं की महिला ने एम्स में तोड़ा दम

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here