अल्मोड़ा। गत दिवस सोमेश्वर क्षेत्र में राज्य मंत्री रेखा आर्या के पति गिरधारी लाल साहू द्वारा बांटे गये आटे को एक्सपायरी बताये जाने पर हुई भौतिक जांच में यह आटा पूरी तरह गुणवत्तायुक्त व खाने योग्य बताया गया है। जांच में पाया गया है कि आटे को पुराने पैकेटों में पैक किये जाने से यह भ्रम की स्थिति पैदा हुई। हालांकि उक्त आटे के सैंपल की जांच के लिए उसे रूद्रपुर प्रयोगशाला भेज दिया गया है।
उपजिलाधिकारी सदर सीमा विश्वकर्मा ने बताया 23 अप्रैल, 2020 को उनके द्वारा तहसील सोमेश्वर क्षेत्रान्तर्गत भ्रमण किया गया। भ्रमण के दौरान क्षेत्रवासियों द्वारा संज्ञान में लाया गया कि राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती रेखा आर्या के पति द्वारा तहसील सोमेश्वर क्षेत्रान्तर्गत वितरित किया गया आटा समाप्ति तिथि (वर्ष 2018) का है, जो खाने योग्य नहीं है। उपजिलाधिकारी ने बताया कि इस सम्बन्ध में खाद्य सुरक्षा अधिकारी अल्मोड़ा अभय कुमार सिंह द्वारा उक्त आटे की गुणवत्ता की भौतिक जांच करायी गयी। भौतिक जांच के उपरान्त खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने अवगत कराया कि उक्त वितरित आटे की गुणवत्ता सही है, जो खाने योग्य है।

साथ ही संज्ञान में लाया गया कि सम्बन्धित संस्था के पास पैकेट समाप्त होने के कारण उक्त आटा वर्ष 2018 के पैकेटों में पैक किया गया। उक्त आटे के सैम्पल जांच हेतु खाद्य प्रयोगशाला रूद्रपुर को भेज दिया गया है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here