पुलिस वालों का भी घर—परिवार होता है ! Corona पीड़ित पत्नी की देखभाल के लिए नही दी छुट्टी तो CO साहब ने whatsapp पर कप्तान को भेज दिया इस्तीफा

262

कभी वीआईपी ड्यूटी, कभी चुनाव ड्यूटी तो कभी कानून—व्यवस्था की जिम्मेदारी का हवाला देकर अकसर पुलिस महकमे के जवान से लेकर अधिकारी रेंक वालों की ऐसे वक्त पर छुट्टी कैंसिल कर दी जाती है, जब उन्हें सबसे अधिक जरूरत होती है। ऐसा ही एक वाक्या उप्र. के झांसी में हुआ जहां कोरोना संक्रमित पत्नी की देखभाल के लिए अवकाश स्वीकृत करने की बजाए चुनाव ड्यूटी लगा देने पर सीओ ने सीधे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को व्हट्सएप पर ही इस्तीफा भेज दिया।

हुआ यूं कि वर्ष 2005 बैच के पीपीएस अधिकारी मनीष सोनकर डेढ़ साल पहले ही झांसी में तैनात हुए थे। करीब दो माह पहले उनको CO का चार्ज मिला। सीओ मनीष सरकारी आवास में पत्नी एवं चार साल की बेटी के साथ रहते हैं। सीओ के मुताबिक 30 अप्रैल को उनकी पत्नी को कोरोना संक्रमण हो गया। घर में अकेले होने से पत्नी की देखरेख के लिए उन्होंने एक से 06 छह मई के लिए अवकाश मांगा लेकिन, अवकाश स्वीकृत नहीं हुआ। इसी बीच उनकी ड्यूटी मतगणना के लिए भोजिला मंडी में लगा दी गई। सीओ के मुताबिक उन्होंने Election duty के लिहाज से सारी व्यवस्थाएं बना दी।

Uttarakhand Breaking : कोरोना काल में भी तय समय पर खोले जायेंगे चार धाम के कपाट, एसओपी जारी

हमारे WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

🔥 सीएनई के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

उसके बाद 2 मई को उन्होंने फिर अवकाश मांगा लेकिन, अवकाश स्वीकृत नहीं हुआ। पत्नी की हालत खराब होने की वजह से वह Duty पर नहीं आए। उसके बावजूद उनको ड्यूटी पर आने के लिए लगातार मजबूर किया जा रहा था। एसएसपी रोहन पी कनय ने भी मोबाइल फोन पर उनको वापस ड्यूटी पर आने के लिए कहा।
उन्होंने इस पर असमर्थता जताते हुए इस्तीफा देने की बात कही। उसके बाद सीओ मनीष ने SSP के whatsapp पर ही इस्तीफा लिखकर भेज दिया। उधर, एसएसपी का कहना है कि मनीष चंद्र ने ड्यूटी में भी लापरवाही बरती। तलब करने पर उन्होंने इस्तीफा लिखकर भेज दिया। उनके इस्तीफे को पुलिस मुख्यालय भेज दिया गया है।

कोरोना से जंग : दिल्ली—महराष्ट्र में नए मामलों में कमी, लेकिन चौंका रहे हैं मौतों के आंकड़े

पीपीएस एसोसिएशन ने लगाया मानसिक प्रताड़ना का आरोप
पीपीएस एसोसिएशन ने ट्वीट कर लिखा कि डीएसपी मनीष सोनकर के साथ झांसी के एसएसपी द्वारा अपनी कोविड ग्रस्त पत्नी और बेटी की देखभाल के लिए अवकाश मांगने पर इतना मानसिक प्रताड़न किया गया कि मनीष सोनकर द्वारा सेवा से त्यागपत्र दे दिया गया। डीजीपी सर तथा अवनीश अवस्थी सर से अनुरोध है, संज्ञान लेकर यथोचित कार्यवाही करें।

अब विदेशों में भी पहुंच रहा भारतीय स्ट्रैन का कोरोना वायरस, यहां मिला पहला मरीज

Previous articleALMORA BIG NEWS: नाबालिग बालिका का इंटरव्यू लेकर पहचान उजागर करना पड़ा भारी, बाल कल्याण समिति ने लिया संज्ञान, एसएसपी के निर्देश पर दन्या में मुकदमा दर्ज
Next articleAlmora Breaking : मामूली कहासुनी में साथी पर चाकू से किया जानलेवा हमला, देख लेने की दी धमकी, मुकदमा दर्ज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here