उत्तराखंडनैनीताल

रामनगर : पीपीपी मोड में चिकित्सालय होने से स्वास्थ्य सुविधाएं न मिलने से लोगों में आक्रोश

रामनगर। सरकार द्वारा रामदत्त जोशी संयुक्त चिकित्सालय रामनगर को शुभम सर्वम कम्पनी को पीपीपी मोड पर देने व उसके साथ हुए अनुबंध के आधार पर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध न कराये जाने से आक्रोशित लोगों ने स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया तथा चेतावनी दी कि कंपनी द्वारा अनुबंध के आधार पर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराई गई तो सरकार एवं प्रशासन के खिलाफ आंदोलन चलाने के लिए बाध्य होंगे।

देव भूमि विकास मंच एवं राज्य निर्माण आंदोलनकारी मंच के आह्वान पर विभिन्न सामाजिक राजनीतिक संगठनों से जुड़े बड़ी संख्या में लोग संत चिकित्सालय संयुक्त चिकित्सालय परिसर पर धरने पर बैठ गए धरना स्थल पर राज्य आंदोलनकारी प्रभात ध्यानी व देव भूमि विकास मंच के संयोजक मनमोहन अग्रवाल के संयुक्त संचालन में धरना स्थल पर हुई सभा में वक्ताओं ने सरकार तथा पीपीपी मोड कंपनी पर आरोप लगाया कि क्यूआर लोगों के स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध नहीं करा पा रही है जिसके लिए लोगों को प्राइवेट अस्पतालों व पैथोलॉजी लैब्स लैब में जाने को मजबूर होना पड़ रहा है। वक्ताओं ने आरोप लगाया कि अनुबंध के आधार पर अस्पताल में विशेषज्ञ डॉक्टर की कमी है अनुबंध के आधार पर पर जांच नहीं हो पा रही है नहीं हो रही है।

अल्ट्रासाउंड, सिटी स्कैन, वेंटिलेटर शोपीस बनकर रह गए जबकि पीपीपी मोड कंपनी इन सुविधाओं के नाम पर प्रतिमाह 1 करोड़ 20 लाख ले रही है। वक्ताओं के सरकार व ठेकेदार पर जनता के रुपयों की बंदरबांट करने का आरोप लगाया। मोबाइल एंबुलेंस में भी विशेषज्ञ डॉक्टर की तैनाती नहीं है, प्रधानमंत्री की महत्वकांक्षी योजना प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि केंद्र बंद पड़ा हुआ है जिससे प्रधानमंत्री की छवि पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है। धरने के आखिर में देव भूमि विकास मंच के संयोजक मनमोहन अग्रवाल ने अपनी 5 सूत्रीय मांगों का एक ज्ञापन मुख्य चिकित्सा अधीक्षक मणि भूषण पंत के माध्यम से मुख्यमंत्री सहित उच्च अधिकारियों को को सौंपा। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक तथा शुभम शर्मा कंपनी के संचालक डॉ. राकेश ने प्रदर्शनकारियों को अवगत कराया कि अनुबंध के आधार पर सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। कंपनी के संचालक डॉ. राकेश ने बताया कि अगले माह तक अल्ट्रासाउंड व सिटी स्कैन की सुविधा अस्पताल में मरीजों को उपलब्ध करा दी जाएगी जिसकी तैयारियां की जा रही है।

धरने प्रदर्शन में समाजवादी लोक मंच, उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी, उत्तराखंड क्रांति दल डेमोक्रेटिक, कांग्रेस, इंकलाबी मजदूर केंद्र, प्रगतिशील महिला एकता केंद्र, महिला एकता मंच, इको सेंसेटिव जोन विरोधी संघर्ष समिति, पछास से जुड़े कार्यकर्ताओं के अलावा बड़ी संख्या में जागरूक लोग उपस्थित थे। जेष्ठ ब्लाक प्रमुख संजय नेगी, सभासद भुवन डंगवाल, मुनीष कुमार, आशा बिष्ट, पान सिंह नेगी, भारत नंदन भट्ट, पीसी जोशी, तुलसी छिम्बाल, ललित रावत, मोहन पाठक, वरुण तिवारी, लालमणि, रवि एम आर टम्टा, सरस्वती जोशी, कौशल्या, किरण, पुष्कर दुर्गापाल, सुमित्रा बिष्ट पीतांबरी रावत, सतेश्वरी रावत, मदन मेहता, महेश जोशी, ललित उपरेती, आनंद नेगी, शेर सिंह लटवाल, फजल खान, नईम चौधरी, शेखर, नवाब अहमद नवीन नैनवाल, योगेश सती, मोहन सिंह सजवान, चंदूलाल मंडोलिया, सुनील, भुवन, कैसर राणा, रमेश जोशी, तुलसी जोशी, दिनेश पांडेय, जानकी पंत, अशोक पंत व प्रमोद बिष्ट थे।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!