हल्द्वानी से विधायक प्रत्याशी राजेंद्र प्रसाद उर्फ जाको भाई (फाइल फोटो)

हल्द्वानी| विधानसभा चुनाव में चर्चा में आए राजेंद्र प्रसाद उर्फ जाको भाई को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, राजेंद्र उर्फ जाको भाई 2022 में हुए विधानसभा चुनाव में विधायकी के लिए हाथ आजमा चुके है। विधानसभा चुनाव में चुनाव एक तरफ था और जाको भाई का रुतबा एक तरफ, अब एक बार फिर जाको भाई सुर्खियों में हैं।

दरअसल, कुछ ही महीनों पहले हुए विधानसभा चुनाव 2022 में हल्द्वानी से विधायक प्रत्याशी बने राजेंद्र प्रसाद उर्फ जाको को पुलिस ने सट्टा लगाते हुए गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार, बुधवार की रात पुलिस रामपुर रोड स्थित फास्ट फूड वाली गली में चेकिंग करते हुए पहुंच गई। इस दौरान एक युवक खुलेआम 10 रुपये लाओ 100 लेकर जाओ कहकर सट्टा लगा रहा था। हालांकि पुलिस को देखते ही वह भागने लगा था, लेकिन पुलिस ने उसे रंगेहाथ दबोच लिया। आगे पढ़े…

पुलिस चौकी इंचार्ज जगदीप नेगी ने बताया…

मंगलपड़ाव पुलिस चौकी इंचार्ज जगदीप नेगी ने बताया कि गिरफ्तार युवक ने अपना नाम राजेंद्र प्रसाद उर्फ जाको बताया है। जाको हाल में हुए विधानसभा चुनाव 2022 में निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर अपनी किस्मत आजमा चुका है। उसकी जमानत जब्त हो गई थी। आगे पढ़े…




जाको का नशे के कारोबार से पुराना नाता है। स्मैक तस्करी व चरस तस्करी में जाको जेल जा चुका है। पहाड़ी इलाकों के चरस लाकर वह शहर में तस्करी करता था। पुलिस जाको का पुराना रिकार्ड भी खंगाल रही है। आगे पढ़े…

चुनाव से चर्चाओं में आया जाको

जाको (Rajendra Prasad alias jako) विधानसभा चुनाव 2022 से चर्चाओं में आया था। अपने चुनाव में उसने कई विवादित बयान दिए। तब नशे पर उनका कहना था कि विधायक बने तो चरस की तस्करी को नहीं रोकेंगे। शराब व स्मैक को रोकेंगे। लोगों ने उन्हें कटघरे में खड़ा कर दिया था। अब लोग इंटरनेट मीडिया में खिल्लियां उड़ा रहे हैं।

यह भी पढ़े : सीएम धामी ने लिखा विधानसभा में नियुक्तियों की जांच को लेकर विधानसभा अध्यक्ष को पत्र

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here