रानीखेत। कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण को देखते हुये लाॅकडाउन में उपजिलाधिकारी रानीखेत अभय प्रताप सिंह ने प्रशासनिक सेवा व कर्तव्यनिष्ठा का सर्वोत्तम परिचय ने दिया है। उपजिलाधिकारी की शादी की तिथि दिनांक 26 अप्रैल, 2020 को लखनउ निर्धारित थी, लेकिन लाॅकडाउन व कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुये उनेक द्वारा शादी की तारीख को स्थगित कर दिया गया। उन्होंने अपने विवाह से पहले प्रदेश व जनपद सेवा को सर्वाेपरि रखा। गौरतलब है कि रानीखेत में गत 05 अप्रैल को कोरोना पाॅजीटीव मरीज मिला था। 06 अप्रैल से ही वहां पर तीन कालोनियों को सील कर दिया गया। तीनों सील कालोनियों मे दैनिक माॅनीटरिंग व निरीक्षण के साथ ही मेडिकल टीम द्वारा तीनों कालोनियों के लोगों का प्रतिदिन चैकअप किया गया और आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति समय-समय पर की गयी। इसमें उपजिलाधिकारी की महत्वपूर्ण भूमिका रही। इस पर जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने उपजिलाधिकारी की इस कर्तव्यनिष्ठा और उनके सेवा भाव की सराहना करते हुये अन्य अधिकारियों को उनसे सीख लेने की अपेक्षा की।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here