नारायण सिंह रावत

सितारगंज। राजकीय बालिका इंटर कालेज में जिलाधिकारी के आदेश पर कोविड-19 वायरस सक्रंमण को देखते हुए किच्छा में कक्षा एक से आठ तक के सभी विद्यार्थियों या फिर उनके अभिभावकों को खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है। सोशल डिस्टेंस का ख्याल भी रखते हुए कुकिंग कास्ट की धनराशि छात्रों अथवा उनके अभिभावकों के खाते में जमा कराए जाने का काम शुरू कर दिया गया है।

यहां बुधवार को राजकीय बालिका इंटर कालेज की प्रधानाचार्या अर्चना पाठक ने बताया कि कोविड-19 वायरस सक्रंमण को देखते हुए छात्र व छात्राओं की सुरक्षा के निमित्त 13 मार्च से तीन मई तक बंद विद्यालयों में मध्याहन भोजन योजना से लाभान्वित कक्षा एक से आठ के समस्त विद्यार्थियों को भारत सरकार के राजपत्र मानपव संसाधन विकास मंत्रालय स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग मध्याहन भोजन योजना नियम 2015 दिनांक 30 सितम्बर 2015 के प्रस्तर 09 के अनुसार खाद्य सुरक्षा भत्ता बच्चों या उनके अभिभावकों को उपलब्ध कराना शुरू कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि तीन सौ बच्चों को मार्च के 14 दिन, अप्रैल के 23 दिन का खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है। जबकि कुकिंग कास्ट प्रति बालिका मार्च में 6.71पैसे के हिसाब से 14 दिन का 94 रूपए प्रति छात्रा व अप्रैल में 7.4 पैसे के हिसाब से 23 दिन 171.35 पैसे प्रति छात्रा के खाते में जमा कराई जा रही है। खाद्यान्न वितरण में सोशल डिस्टेंस का पूरा ध्यान रखा गया। उन्होंने बताया कि दो मई तक इस योजना को पूर्ण करना है।


- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here