नारायण सिंह रावत

सितारगंज। एक बार फिर उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश बॉर्डर से सटे गांव में बीती शाम टाइगर देखा गया है। जिससे आस-पास के गांवों में दहशत का माहौल है। विदित हो कि इससे पूर्व भी टाइगर ने इस इलाके में न केवल दस्तक दी थी बल्कि सितारगंज शहर से सटे गांव चीकाघाट में तो एक व्यक्ति को अपना शिकार भी बना डाला था। बताया जाता है कि कल शाम उत्तराखंड से सटा गांव बिज़्ती व उडरा (यूपी) में टाइगर देखा गया। कहा गया है कि यह टाइगर इलाके में विचरण कर रहा है। टाइगर के आने की खबर से ही लोगों में दहशत हो गयी है।

मालूम हो कि कुछ माह पूर्व टाइगर ने उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती गांवों में दस्तक देकर कई पशुओं व लोगों को अपना शिकार बना लिया था। उसी दौरान बिज़्ती से लगा गांव उडरा में घोड़ा ले गया था जबकि बघौरी गांव से कुत्ता बकरी को अपना शिकार बनाकर एक घर की दीवार तोड़ दी थी। इतना ही नहीं टाइगर ने चीकाघाट गांव में एक युवक को अपना निवाला बना लिया था। जब तक टाइगर इस इलाके में रहा तब तक वो कई जानवरों को अपना शिकार बनाता रहा था। एक व्यक्ति को शिकार बनाने और लगातार टाइगर के इस इलाके में विचरण करने से उत्पन्न दहशत के चलते प्रशासन ने लोगों को सुरक्षा की दृष्टि से ऐतिहात बरतने का ऐलान किया था।


वन विभाग ने कई स्थानों पर कैमरे लगाए थे। इतना ही नहीं चीकाघाट में लगने वाले ऐतिहासिक मेले को भी सुरक्षा कारणो से उस दौरान स्थगित कर दिया गया था। और अब फिर टाइगर की इस इलाके में आमद से ग्रामीण चितिंत और दहशत में हैं। हालांकि अभी ऐसी कोई खबर नहीं है कि टाइगर ने किसी को अपना शिकार बनाया हो, किन्तु टाइगर तो टाइगर ही है, कब क्या कर दे, इसी चिंता में ग्रामीणों में भय व्याप्त है।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here