नई दिल्ली। लॉकडाउन के कारण रोजाना 30 से 35 करोड़ का नुकसान झेल रही एयर इंडिया ने अब लॉक डाउन के 3 मई को खत्म होने के बाद की तैयारी शुरू कर दी है। कंपनी ने बकायदा आज से इसके लिए टिकटों की बुकिंग भी शुरू कर दी है। अब समझा जा रहा है कि बंद हुई एयर इंडिया की उड़ानें जल्द ही शुरू हो सकती हैं। कंपनी प्रवक्ता ने जारी एक बयान में कहा है कि यात्री 4 मई से कुछ घरेलू और 1 जून से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए बुकिंग कर सकते हैं। वहीं, प्राइवेट एयरलाइंस पहले ही 3 मई से बुकिंग शुरू कर चुकी हैं। ज्ञात रहे कि कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए लागू दूसरे फेज का लॉकडाउन 3 मई को खत्म होने जा रहा है।
एयर इंडिया ने कहा, ‘कोरोनावायरस के संकट को देखते हुए हमने घरेलू उड़ानों के लिए 3 मई और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए टिकट बुकिंग पर 31 मई तक टिकटों की बुकिंग पर रोक लगाई थी। हालांकि, अब बुकिंग जारी है। कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि शुरुआत में मेट्रो शहरों को जोड़ने वाली उड़ानें शुरू की जाएंगी। बाद में स्थिति को देखते हुए उड़ानों की संख्या बढ़ाई जाएगी। हम डीजीसीए और स्वास्थ्य मंत्रालय के सभी दिशा-निर्देशों का पालन करेंगे। इसमें विमान में स्वच्छता, चेक-इन और बोर्डिंग के दौरान यात्रियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग और विमान में सीट खाली छोड़ने संबंधी निर्देश भी शामिल हैं। इधर एक अनुमान के मुताबिक घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रद्द होने से एयर इंडिया को रोजाना 30 से 35 करोड़ रुपए का नुकसान हो रहा है। बताया जाता है कि एयर इंडिया की डेली आमदनी करीब 60 से 65 करोड़ रुपए है। इसमें से 90% कमाई पैसेंजर ट्रैवल से होती है। कंपनी कर्मचारियों की सैलरी पर 250 करोड़ रुपए प्रतिमाह खर्च करती है। जबकि एरक्राफ्ट की लीज और रेंट पर हर माह करीब 226 करोड़ रुपये का खर्च आता है।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here