उत्तराखंडबागेश्वरशिक्षा

बागेश्वर : जिले की बालिकाएं व माता-पिता करे आवदेन, रुपये होंगे सीधे बैंक में ट्रांसफर

सांकेतिक फोटो

बागेश्वर। प्रदेश सरकार बेटियों का भविष्य संवारने के लिए कई योजना चला रही है। नंदा गौरा योजना भी इन्हीं योजनाओं में से एक है। यह लड़कियों के लिए एक विशेष योजना है। आर्थिक रुप से पिछड़े वर्ग को इस योजना का काफी लाभ मिल जाता है। उत्तराखंड सरकार इस योजना में लड़की के जन्म पर और 12वीं पास करने के बाद पैसे देगी। महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित नंदा गौरा योजना के लिए आवेदन प्रारंभ हो गए है। योजना के तहत मौजूदा शौक्षिक सत्र में 12वीं पास करने वाली छात्राओं को 51 हजार और बालिका के जन्म पर 11 हजार रुपये की आर्थिक मदद मिलेगी।

महिला बाल विकास विभाग बालिका शिक्षा को प्रोत्साहन देने और लिंग भेद की कुरीति को दूर करने के लिए नंदा गौरा योजना संचालित करता है। इसके तहत 12वीं पास छात्राओं को उच्च शिक्षा के लिए सहायता प्रदान की जाती है। सत्र 2019-20 में 12वीं करने वाली छात्राओं के लिए और पिछले 6 महीने के अंदर जन्मी बालिकाओं के लिए विभाग ने आवेदन प्रक्रिया शुरु कर दी है। बागेश्वर के जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास राजेंद्र प्रसाद बिष्ट ने बताया कि सभी दस्तावेज पूर्ण होने पर ही आवेदन पत्र जमा किये जाएंगे। प्रत्येक बाल विकास परियोजना में इसके फार्म नि-शुल्क उपलब्ध है। 👉 न्यूज़ व्हाट्सएप ग्रुप click now 👈

12वीं पास बालिकाओं के आवेदन की अंतिम तिथि 30 नवंबर रखी गई है। आवेदन के साथ आय प्रमाणपत्र, स्थायी निवास प्रमाणपत्र, बैंक खाता और आधार कार्ड का विवरण भी दिया जाना जरूरी है। योजना के तहत अधिकतम छह हजार रुपये पारिवारिक आय वाली छात्राएं ही पात्र होंगी।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!