उत्तराखंडबागेश्वर

बागेश्वर : छात्रों का 22 दिनों से चल रहा आंदोलन उपजिलाधिकारी ने कराया समाप्त, बोले आवश्यकता पड़ने पर ही कराया जाएगा कोरोना मरीजों को भर्ती

बागेश्वर। राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय बागेश्वर को कोविड सेंटर बनाए जाने के विरोध में चल रहा छात्र संघ का अध्यक्ष प्रशासन से वार्ता के बाद स्थगित कर दिया है। उपजिलाधिकारी योगेंद्र भंडारी ने आंदोलन स्थल पर जाकर छात्रों से वार्ता की तथा आश्वस्त किया कि महाविद्यालय में आवश्यकता होने पर ही कोरोना मरीजों को भर्ती किया जाएगा। बुधवार को प्रशासन व छात्रों की वार्ता के अनुसार गुरूवार को उपजिलाधिकारी योगेंद्र सिंह महाविद्यालय पहुंचे। उन्होंने कहा कि देश हित में महामारी को देखते हुए महाविद्यालय को कोविड सेंटर बनाया है। आश्वस्त किया कि अति आवश्यकता व अधिक मरीजों के होने के बाद ही महाविद्यालय में कोरोना पॉजिटिव मरीज भेजे जाएंगे। जिस पर छात्र मान गए। इसके बाद उपजिलाधिकारी ने जूस पिलाकर 22 दिनों से चल रहे आंदोलन को समाप्त कराया। वार्ता के दौरान छात्र संघ अध्यक्ष सौरभ जोशी समेत छात्र नेता अर्जुन थापा, आशीष कुमार, दीपक थापा, गुंजन कठायत, पूनम बिष्ट, करिश्मा, कंचन बिष्ट आदि उपस्थित थे।

हल्द्वानी ब्रेकिंग : दोस्त का जन्मदिन के बहाने भोजियाघाट ले गई मौत, वापसी में पनियाली के दो युवकों को बनाया शिकार, परिवारों में कोहराम

Leave a Comment!

error: Content is protected !!