काशीपुर| बीते 13 अक्टूबर को ग्राम जुड़का कुंडेश्वरी निवासी स्टोन क्रेशर स्वामी महल सिंह अपने फार्म हाउस पर बैठकर सुबह अखबार पढ़ रहे थे, इसी दौरान दो नकाबपोश अज्ञात शूटरों ने ताबड़तोड़ फायरिंग करते हुए महल सिंह को मौत के घाट उतार दिया था। मामले में पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने एक महिला समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस के मुताबिक, बीते 13 अक्टूबर कर्मपाल सिंह पुत्र हरदेव सिंह निवासी ग्राम जुड़का नम्बर एक कुंडेश्वरी थाना काशीपुर ने तहरीरी सूचना दी कि उसके 70 वर्षीय ताउ महल सिंह पुत्र स्व. सिंगारा सिंह जो सुबह 08:30 बजे अपने घर के बाहर बैठकर अखबार पढ़ रहे थे को दो अज्ञात व्यक्ति मोटर साईकिल से आए अज्ञात शूटरों ने ताबड़तोड़ फायरिंग करके गोली मार दी जिससे उसके ताउजी की घटना स्थल पर मृत्यु हो गयी उक्त दोनों व्यक्ति मोटर साइकिल से भाग गये तथा उसके ताउजी को 6-7 दिन पहले कनाडा से एक व्यक्ति जिसका नाम हरजीत सिंह उर्फ काला है ने फोन पर धमकी दी थी कि मैं तुझें जान से मार दूंगा उक्त हरजीत उर्फ काले कि मेरे ताउजी से स्टोन केशर के हिस्से को लेकर दुश्मनी थी मुझे पूरा शक है कि उक्त हरजीत सिंह व अन्य लोगों ने मेरे ताउजी की हत्या की है कि तहरीरी पर मु.एफआईआर नम्बर 631/2022 धारा 302 में मुकदमा दर्ज किया गया। आगे पढ़े…

घटना को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने इस मामले में तत्काल निरीक्षण कर घटनास्थल से हत्या का अनावरण करने के निर्देश पर अभय सिंह पुलिस अधीक्षक, अपराध रुद्रपुर चन्द्रमोहन सिंह पुलिस अधीक्षक काशीपुर एवं सीओ वंदना वर्मा को टीम के साथ लगाया गया। आगे पढ़े…


उक्त घटना की गम्भीरता को देखते हुयें आने-जाने वाले घटना स्थल के समस्त मार्गो के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज का अवलोकन किया गया। सीसीटीवी फुटेज पर अभियुक्त गणों के साफ फुटेज आने पर उक्त शूटर इण्टरनेशल होने का संदेह व्यक्त किया। सीसीटीवी / मैनुवल पूछताछ व सुरागरसी पतारसी के दौरान मुखबिर की मिली सूचना पर उक्त घटना में शामिल पन्नू जो गुलजारपुर का रहने वाला है जो आज एकता स्टोर केशर की तरफ बंजारी गेट के पास जंगल में छिपकर पुलिस के डर से कहीं भागने की फिराक में है को पुलिस टीम के द्वारा रात्रि करीब ढाई बजे रोकने के लिये इशारा किया तो अभियुक्त के द्वारा पुलिस पार्टी पर जान से मारने की नियत से फायर कर दिया जिससे पुलिस पार्टी के द्वारा अपने कौशल का प्रयोग करते हुये बचते-बचाते हुये अभियुक्त प्रभजोत सिंह पन्नू उर्फ प्रभजीत सिंह पुत्र हरजाब सिंह निवासी ग्राम गुलजार पुर कुण्डेश्वरी थाना काशीपुर जिला को मय एक अदद पिस्टल तथा 08 जिन्दा तथा पुलिस पार्टी पर फायर किये 02 खोखा राउण्ड कारतूसों के साथ गिरफ्तार किया गया। आगे पढ़े…

घटना का खुलासा गिरफ्तार अभियुक्त 27 वर्षीय प्रभजोत सिंह पन्नू उर्फ जीके पन्नू पुत्र हरजाब सिंह निवासी ग्राम गुलजार पुर कुण्डेश्वरी थाना काशीपुर ने पूछने पर बताया कि मैं वर्ष 2015 से 2020 तक एकता स्टोन क्रेशर पर बतौर मुंशी कार्य करता था। स्टोन केशर में महल सिंह सुखवन्त सिंह व उसका भाई हरजीत उर्फ काले व जगप्रीत सिंह पार्टनर थें करीब दो वर्ष हरजीत काले महल सिंह व सुखवंत सिंह के बीच आपस में पार्टनरशिप को लेकरआपस में विवाद रहने लगा हरजीत सिंह उर्फ काले उक्त स्टोन केशर में जबरदस्ती हिस्सेदारी चाहता था परन्तु महल सिंह उपरोक्त के दबाब में नहीं आ रहा था जिस कारण हरजीत उर्फ काले महल सिंह से दुश्मनी रखने लगा अभियुक्त हरजीत उर्फ काले तथा प्रभजोत उर्फ पन्नू स्वयं भी स्टोन केशर बनाना चाहते थे जिसका मृतक महल सिंह विरोध कर रहा था अभियुक्त हरजीत सिंह उर्फ काले एंव उसके भाई सुखवंत सिंह के बीच पंचायत के माध्यम से विवाद सुलझाया गया लेकिन काले संतुष्ठ नहीं था जिस कारण हरजीत सिंह, महल सिंह से ओर अधिक दुश्मनी रखने लगा। आगे पढ़े…

Signal App और whatsapp का हत्याकांड में यूज

हरजीत सिंह के द्वारा मुझसे सिगनल एप (Signal App) के माध्यम से महल सिंह की हत्या करने के लिये अपने पास कारतूस व वैपन दिये तथा शूटरों की व्यवस्था रखने को कहा हरजीत के कहने पर मैने उसके गैंगस्टर दोस्त को whatsapp के माध्यम से मृतक महल सिंह एंव उसके पुत्र की फोटों भेजी थी। 12 अक्टूबर को मुझे सिंगनल एप के माध्यम से उक्त शूटरों के लिये मोटर साईकिल की व्यवस्था करने के लिये बताया व इस काम में महिला रजविन्दर कौर व सेवी से सम्पर्क में रहने के लिये बताया चूंकि मैं हरजीत सिंह के साथ मिलकर स्टोन केशर लगाना चाहता था जिसमें महल सिंह अड़ंगा डाल रहा था इसलिये मैंन हरजीत के बतायें प्लान के तहत काम किया। आगे पढ़े…

चूकि केसर के माध्यम से सेवी व रजविन्दर कौर को भी आर्थिक फायदा रहता इसलियें वह भी इस प्लान में शमिल थें 12 अक्टूबर को सिगनल ऐप के माध्यम से माध्यम से हरजीत उर्फ काले ने अपने गैगस्टर साथी के साथ मोबाइल से बात करायी और बताया कि रात्रि 09 बजे तक शूटर काशीपुर पहुंच जायेगे मैं लगातार हरजीत सिंह उर्फ काले तथा कनाडा में बैठें दुसरें गैगस्टर साथी के सम्पर्क में था मैं करीब 09 बजे रात्रि दोनों शूटरों को लेने रेलवे स्टेशन काशीपुर से अपने दोस्त की बुलेरों से चीमा चौराहें होते हुये हरजीत सिंह उर्फ काले के घर ले गया जहां पर रजिवन्दर कौर व सेवी ने दोनों शूटरो के खाने-पीने की व्यवस्था की तथा मैंने दिन में खरीदी हुयी मोटर साईकिल शूटरों को देने के लिये सुखदेव सिंह उर्फ सेवी के सुपुर्द की तथा 13 अक्टूबर 2022 को दोनों शूटरों के द्वारा प्लान के मुताबिक प्रातः चार बजे उठकर मैं अपने दोस्तो के साथ केदार नाथ निकल गया और जंगल के रास्ते शूटरों को मृतक महल सिंह के घर पर ले जाकर पूरे रास्तों की रैकी करवाई बाद में शूटरों ने हत्या कर दी। आगे पढ़े…

मुकदमा वाला में प्रकाश में आये अभियुक्त हरजीत सिंह उर्फ काले के सम्बन्ध में/ कारोबार तथा अन्य महत्वपूर्ण जानकारियाँ एकत्र की जा रही है। प्रकाश में आया है कि हरजीत सिंह उर्फ काले का रूद्रपुर का कोई साथी आर्थिक कार्यों को स्थानीय स्तर पर देखता है इस घटना में उसकी भूमिका की भी जांच की जा रही है। पुलिस टीम के द्वारा अज्ञात शूटरों तथा अभियुक्त हरजीत सिंह उर्फ काले की योजना में शामिल अभियुक्त गण 1- प्रभजोत सिंह पन्नू उर्फ प्रमजीत सिंह पुत्र हरजाब सिंह निवासी ग्राम गुलजार पुर कुण्डेश्वरी थाना काशीपुर जिला उधमसिंह नगर उम्र 27 वर्ष, 2- रजविन्दर कौर पत्नी तरसेम सिंह निवासी ग्राम गुलजार पुर कुण्डेश्वरी थाना काशीपुर जिला उधमसिंह नगर उम्र 46 वर्ष, 3- सुखदेव सिंह उर्फ सेवी पुत्र प्रीतम सिंह निवासी निवासी ग्राम गुलजार पुर कुण्डेश्वरी थाना काशीपुर जिला उधमसिंह नगर उम्र 55 वर्ष को गिरफतार किया गया। फरार दोनों शूटरों की गिरफतारी हेतु टीमें गैर राज्य भेजी जा चुकी है। जिनकी जल्द ही गिरफतारी की जायेगी। इस घटना में इण्टरनेशनल गिरोह के सम्मिलित होने के की भूमिका की भी जांच की जा रही है। आगे पढ़े…

फरार वांछित अपराधी
1- हरजीत सिंह उर्फ काले पुत्र गुरनाम सिंह
2- तनवीर सिंह पुत्र हरजीत सिंह 3- दो शूटर

पुलिस टीम में

पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी, व.उ.नि. प्रदीप मिश्रा, उ.नि. अशोक काण्डपाल, उ.नि. धीरेन्द्र सिंह परिहार, उ.नि., सुरेन्द्र सिंह, उ.नि. नवीन बुधानी, उ.नि. दीपक जोशी, उ.नि. प्रदीप पंत, उ.नि. संतोष देवरानी, उ.नि. मनोज जोशी, का. मुकेश कुमार, का. कुलदीप कुमार, का. गजेन्द्र गिरी, का. दीवान गिरी, का. त्रिभुवन सिंह, का. प्रेम कनवाल, का. सुरेन्द्र सिंह, म.का. रिचा तिवारी।

एसओजी रूद्रपुर / काशीपुर- निरीक्षक विजेन्द्र शाह, उ.नि. विकास चौधरी, उ.नि. ललित बिष्ट, का. कैलाश तोमक्याल, का. विनय यादव, का. प्रदीप कुमार, का. कुलदीप सिंह, का. दीवान बोरा, का. दीपक कठैत, का. राजेश भट्ट, का. भूपेन्द्र सिंह। अन्य गठित पुलिस टीम में निरीक्षक नरेश चौहान, निरीक्षक, विक्रम राठौर, एसओ रविन्द्र सिंह बिष्ट, एसओ कमलेश भट्ट, उ.नि. दीपक कौशिक, उ.नि. अर्जुन गिरी।

उत्तराखंड में हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, 6 लोगों की मौत Click Now

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here