अल्मोड़ा के कर्नाटकखोला की रामलीला का दृश्य।

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा
सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा में रामलीला की धूम है। नगर में हुक्का क्लब, नंदादेवी, धारानौला, राजपुरा, एनटीडी, कर्नाटकखोला, सरकार की आली में रामलीला मंचन बदस्तूर जारी है। हर जगह कलाकार विभिन्न पात्रों की भूमिका में मनमोहक अभिनय की छाप छोड़ रहे हैं। दर्शकों की भीड़ जुट रही है।

अल्मोड़ा के कर्नाटकखोला की रामलीला का दृश्य।

कर्नाटकखोला: यहां मंगलवार रात की रामलीला में पंचवटी प्रसंग, सूर्पनखा नासिका छेदन, खर-दूषण, त्रिसरा प्रसंग,, रावण-मारीच संवाद, सीता हरण, जटायु उद्वार आदि प्रसंगों का मंचन हुआ। इनमें सूर्पनखा नासिका छेदन, त्रिसरा प्रसंग, मारीच-रावण संवाद मुख्य आकर्षण रहे। दर्शकों ने तालियों की गड़गड़ाहट से कलाकारों की हौसला अफजाई की। इससे पहले मुख्य अतिथि मेजर सिद्धार्थ कर्नाटक, मेजर मेघा कर्नाटक तथा विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ रंगकर्मी जया पाण्डे ने दीप प्रज्जवलित कर मंचन का श्रीगणेश किया। अतिथियों ने श्री भुवनेश्वर महादेव मंदिर एवं रामलीला समिति कर्नाटकखोला के संस्थापक/संरक्षक बिट्टू कर्नाटक के सामाजिक चेतना, सेवाभाव जागृत करने तथा सांस्कृतिक परंपराओं के संरक्षण के लिए किए जा रहे प्रयासों को सराहनीय बताया। कर्नाटक खोला में राम—दिव्या पाटनी, लक्ष्मण-शगुन त्यागी, सीता-किरन कोरंगा, रावण-पूर्व दर्जा मंत्री बिट्टू कर्नाटक, साधू व मारीच-मनीष जोशी, खर-डा. करन कर्नाटक, दूषण-अखिलेश सिंह थापा, जोगी रावण-प्रकाश पिलखववाल, त्रिसरा-दीपक गोस्वामी, सूर्पनखा-मानसी मेहरा, सुप्रिया मेहरा, काव्या पाण्डे आदि ने जीवन्त अभिनय किया।

अल्मोड़ा के सरकार की आली की रामलीला का दृश्य।

सरकार की आली: यहां मंगलवार रात छठे रोज की रामलीला में दर्शकों की काफी भीड़ जुटी। सूर्पनखा का राम—लक्ष्मण कों रिझाना, सूर्पनखा नासिका छेदन, खर-दूषण बध, रावण-मारीच संवाद व सीता हरण के प्रसंग का शानदार मंचन ने देर रात तक दर्शकों को बांधे रखा। सूर्पनखा की भूमिका में तोषिता जोशी तथा मारीच की भूमिका में दीप चंद्र तिवारी ने शानदार अभिनय कर दर्शकों का दिल जीत लिया। दर्शकों ने तालियां बजाकर पात्रों का उत्सावर्धन हुआ। इससे पूर्व विधानसभा के उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान ने बतौर मुख्य अतिथि मंचन का शुभारंभ किया और रामलीला के विविध प्रसंगों से अच्छी प्रेरणा लेकर जीवन में उतारने का आह्वान किया।


अल्मोड़ा के धारानौला की रामलीला का दृश्य।

धारानौला: यहां गत रात्रि राम विलाप, हनुमान—राम मिलन, सुग्रीव मैत्री, मायाबी प्रसंग, शबरी प्रेम, लंका दहन के प्रसंगों का शानदार मंचन हुआ। राम विलाप, शबरी प्रसंग, मायाबी प्रसंग ने लोगों का दिल जीत लिया। यहां मुख्य अतिथि गीता मेहरा व विशिष्ठ अतिथि प्रो. केसी जोशी ने दीप प्रजवालित मंचन का शुभारंभ किया। उन्हें कमेटी की ओर शाल ओढ़ाकर सम्मान दिया गया। इस मौके पर मनोज सनवाल, दीपक जोशी, दीपक गुर्रानी, भूपाल मनराल, हेम पांडेय, राजुल बंसल, सूचित जोशी, कमलेश पांडेय आदि कई लोग प्रमुख रूप से शामिल रहे। उधर एनटीडी की रामलीला में पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी ने मुख्य अतिथि व अजीत कार्की ने बतौर विशिष्ट अतिथि शिरकत की।

एनटीडी की रामलीला में त्रिसरा के शानदार अभिनय के दौरान गिरीश धवन
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here