— अनूप सिंह जीना की रिपोर्ट —

नैनीताल। नेशनल हेल्थ मिशन उत्तराखंड ने कायाकल्प के अंतर्गत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेतालघाट को उप जिला चिकित्सालय वर्ग में राज्य स्तर पर द्वितीय पुरस्कार के लिए चयनित किया है। सीएचएसी बेतालघाट को runner up का पुरस्कार देते हुए external assessment score 84.5 प्रतिशत प्रदान किया है।

एनएचएम की निदेशक डॉ. सरोज नेथानी ने जारी आदेश में उक्त जानकारी दी है। जिसमें बताया गया है कि जिला चिकित्सालय वर्ग में जिला महिला चिकित्सालय हरिद्वार द्वारा प्रथम स्थान प्राप्त किया गया। जिला महिला चिकित्सालय हरिद्वार को पुरस्कार स्वरूप 50 लाख की धनराशि दी जाएगी। इसके अतिरिक्त इस वर्ग में राज्य भर के नौ अन्य जिला चिकित्सालयों को सांत्वना पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। जिसमें से नैनीताल जनपद के बीडी पांडे पुरुष चिकित्सालय एवं बीडी पांडे महिला चिकित्सालय सम्मिलित हैं। सांत्वना पुरस्कार के तौर पर 3 लाख की धन राशि प्रदान की जाती है।


👉👉  ताजा खबरों के लिए WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

उप जिला चिकित्सालय वर्ग में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सैया, देहरादून द्वारा प्रथम स्थान प्राप्त किया गया। पुरस्कार स्वरूप सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सैय्या को 15 लाख रुपए की धनराशि चिकित्सालय की मूलभूत सुविधाओं को उन्नत बनाने हेतु प्रदान की जाएगी। इसी वर्ग में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेतालघाट द्वारा द्वितीय पुरस्कार प्राप्त किया गया। जिसमें चिकित्सालय को 10 लाख रुपए की धनराशि पुरस्कार स्वरूप दी जाएगी। उप जिला चिकित्सालय वर्ग में 15 चिकित्सालयों को सांत्वना पुरस्कार में एक—एक लाख रूपये की धनराशि राशि प्रदान की जाएगी जिसमें से नैनीताल जनपद के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गरमपानी, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोटाबाग, संयुक्त चिकित्सालय रामनगर तथा महिला चिकित्सालय हल्द्वानी ने पुरस्कार प्राप्त किया।

इनके अतिरिक्त प्रत्येक जिले के सर्वश्रेष्ठ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को रुपया 2 लाख की धनराशि के साथ ही 70% से अधिक अंक प्राप्त करने वाले सभी प्राथमिक चिकित्सालयों को 50 हजार का सांत्वना पुरस्कार भी प्रदान किया जाएगा। ज्ञात हो कि कायाकल्प कार्यक्रम भारत सरकार द्वारा राजकीय चिकित्सालयों में रोगियों को प्रदान की जा रही सेवाओं की गुणवत्ता सुधार हेतु चलाया जा रहा है, जिसमें से 70% से अधिक अंक प्राप्त करने वाले देश भर के सभी चिकित्सालयों को जिला चिकित्सालय, उप जिला चिकित्सालय एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तथा हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर वर्ग में पुरस्कार प्रदान किया जाता है। कायाकल्प कार्यक्रम के अंतर्गत चिकित्सालय के रखरखाव, सफाई एवं स्वच्छता, सपोर्ट सर्विसेज, जैव चिकित्सा अपशिष्ट का प्रबंधन, संक्रमण नियंत्रण, स्वच्छता के प्रचार—प्रसार एवं चिकित्सालय के बाहर समुदायिक स्तर पर स्वच्छ्ता एवं सफाई के प्रचार प्रसार। इन सभी छह मापदंडों पर चिकित्सालय का आंकलन किया जाता है।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here