सांकेतिक फोटो

✒️ अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा/रानीखेत

देहरादून में ऑटो-विक्रम का संचालन बंद करने एवं उत्तराखंड के डोईवाला ऑटोमेटिक वाहन फिटनेस टेस्टिंग सेंटर स्थापित करने का कुमाऊं महासंघ टैक्सी यूनियन ने कड़ा विरोध दर्ज किया है। साथ ही चेतावनी दी है कि यदि विधानसभा सत्र समाप्त होने के तुरंत बाद कार्रवाई नहीं हुई तो पूरे प्रदेश में परिवहन व्यवसायी अनिश्चि कालीन हड़ताल पर चले जायेंगे।

Advertisement

कुमाऊं महासंघ टैक्सी यूनियन उत्तराखंड के अध्यक्ष ठाकुर सिंह द्वारा संयुक्त मजिस्ट्रेट रानीखेत के माध्यम से परिवहन सचिव उत्तराखंड को भेजे ज्ञापन में कहा गया है कि सरकार के आदेश अनुसार देहरादून में ऑटो-विक्रम जो अपने 10 वर्ष पूर्ण कर चुके हैं उनका संचालन बंद होने वाला है। जिसका महासंघ पूर्ण रूप से विरोध करता है। उन्होंने कहा कि आज सरकार टेंपो-विक्रम को सड़क से बाहर कर रही है, उसके बाद ये टैक्सी वाहनों को भी इसी प्रकार बाहर कर ओला उबर जैसे प्राइवेट सेक्टर को मजबूत करेंगे।

ज्ञापन में कहा गया है कि सरकार का यह एक तरफा निर्णय है। शासन ने यह जरा भी सोचने की चेष्टा नही की कि सड़क मार्ग से बाहर किये जाने पर इन वाहन स्वामियों/चालकों का क्या होगा। इनकी आजीविका का निर्वाहन किस प्रकार होगा। उन्होंने कहा कि इस तुगलकी फरमान का विरोध किया जायेगा। परिवहन विभाग द्वारा जिस प्रकार ऑटोमैटिक फिटनेस के नाम पर जो डोईवाला और रुद्रपुर में ऑटोमेटिक फिटनेस सेंटर खोले जा रहे है, उसका महासंघ पूर्ण रूप से विरोध करता है।

उन्होंने कहा कि आज मंगलवार को हुए बंद को महासंघ टैक्सी यूनियन कुमाऊं मंडल पूरा समर्थन करता है। कहा कि इस बंद का निर्णय कम समय में लिया गया है। जिस कारण वह शासन-प्रशासन को अवगत नही करा पाए हैं। इस कारण बंद में शामिल नही हो पाये। जिसका कारण यह है कि यह एकाएक बंद घोषित हुआ। भविष्य में कभी भी उत्तराखंड परिवहन महासंघ द्वारा बंद की घोषणा करी जाएगी तो पूरा महासंघ कुमाऊं मंडल टैक्सी यूनियन परिवहन व्यसाइयों के हितों की रक्षा करने को पूरा कुमाऊं बंद करेगा।उन्होंने आग्रह किया कि सरकार के इस आदेशो को तुरंत निरस्त करे। साथ ही चेतावनी दी कि यदि विधान सभा सत्र समाप्त होने के उपरांत तुरंत आवश्यक कार्यवाही नही कि गई तो समस्त उत्तराखंड परिवहन व्यवसायी अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले जायेंगे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here