दिल्ली के बत्रा अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से 12 मरीजों की मौत

171
सांकेतिक फोटो

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी के बत्रा अस्पताल में तरल मेडिकल ऑक्सीजन की कमी के कारण शनिवार को 12 मरीजों की मौत हो गयी।

अस्पताल के प्रबंध निदेशक डॉ. एससीएल गुप्ता ने मीडिया को बताया कि ऑक्सीजन की कमी और समय पर इसकी आपूर्ति न होने के कारण आज 12 मरीज अपनी जान गंवा बैठे। उन्होंने कहा, “ हमने ऑक्सीजन सिलेंडरों की व्यवस्था का प्रयास किया, लेकिन मरीजों की जान नहीं बच सकी। मृतकों में अस्पताल के गैस्ट्रोइन्टेरोलॉजिस्ट डॉ. आर के हिमथानी भी शामिल हैं।”

बड़ी खबर : दिल्ली में एक सप्ताह के लिए बढ़ाया गया लॉकडाउन

हमारे WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

🔥 सीएनई के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डॉ. सुधांशु बनकटा ने कहा कि अस्पताल दिल्ली सरकार के संपर्क में है और ऑक्सीजन टैंकर मंगवाया है। इस बीच दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा ने अपने ट्वीट में कहा कि तरल मेडिकल ऑक्सीजन ले जाने वाला हमारा एसओएस क्रायोजेनिक टैंकर पांच मिनट के भीतर बत्रा अस्पताल पहुंच रहा है।

यह पहला मौका नहीं है जब दिल्ली में ऑक्सीजन की कथित कमी के कारण मरीजों की मौत हुई है। इससे पहले सर गंगा राम और जयपुर गोल्डन अस्पताल में कम से कम 45 मरीजों की जानें जा चुकी है।

Corona का कोहराम : Australia ने जारी किया फरमान India से आये तो डाल देंगे जेल, अपने citizens पर भी रहम नही

उल्लेखनीय है कि उद्योगमुक्त क्षेत्र होने के कारण दिल्ली में ऑक्सीजन संयंत्र नहीं है और तरल मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए यह पूरी तरह से केंद्र तथा अन्य राज्यों पर निर्भर है। कोरोना की दूसरी लहर ने दिल्ली को बुरी तरह प्रभावित किया है, कोरोना के बढ़ते प्रकोप के कारण यहां अस्पतालों में जगह नहीं है और जीवनरक्षक ऑक्सीजन की काफी किल्लत हो रही है।

Big Breaking : उत्तराखंड में कोरोना का कहर, 24 घंटों में 107 की मौत, 5 हजार 493 नए केस, देहरादून में टूटा रिकार्ड, आज मिले 2 हजार 266 संक्रमित

अब शादियों में एकट्ठा नही होंगे 25 से अधिक लोग, डीएम खुद घटा सकते हैं बाजार खुलने की समय सीमा, पढ़िये और क्या हैं नये आदेश…..👇

Uttarakhand : अब कोरोना संक्रमण के इंसानों से जानवरों में फैलने का खतरा ! प्रदेश के समस्त चिड़ियाघर, राष्ट्रीय पार्क, वन्य जीव विहार जनता के लिए बंद, किसी किस्म की पर्यटन या शोध ​गतिविधि पर भी रोक

Previous articleबड़ी खबर : दिल्ली में एक सप्ताह के लिए बढ़ाया गया लॉकडाउन
Next articleBreaking News : गरमपानी और आस—पास से 28 लोगों में हुई कोरोना संक्रमण की पुष्टि, आज लिए गये 101 सैंपल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here