अपराधअल्मोड़ाउत्तराखंड

खुलासा : हत्याकांड में शामिल बीडीसी सदस्य समेत 3 गिरफ्तार, 8 की तलाश, चुनावी रंजिश की भेंट चढ़ी राजेंद्र की जिंदगी

खुलासा करते एसएसपी पीएन मीणा एवं ​​पुलिस गिरफ्त में आरोपी।

अल्मोड़ा, 20 अगस्त। कांचुला पुल के समीप राजेंद्र सिंह चम्याल को लाठी—डंडों के ताबड़तोड़ प्रहार से मौत के घाट उतारने के मामले का पर्दाफाश हो गया है। ठीक एक माह पहले घटित इस घटना की सुरागरसी—पतारसी करते हुए पुलिस ने इस निर्ममतापूर्ण घटना के तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इनमें से एक क्षेत्र पंचायत सदस्य है। राजस्व क्षेत्र के इस मामले का रेगुलर पुलिस ने 25 दिन में खुलासा करने में कामयाबी हासिल की है। विवेचना में उजागर हुआ है कि राजेंद्र सिंह चम्याल की जिंदगी पंचायत चुनाव से उभरी रंजिश की भेंट चढ़ गई।

अब तक इस घटना को अंजाम देने वाले 11 लोगों के नाम पता चल गए हैं। एसएसपी पीएन मीणा ने बताया कि शेष 8 आरोपियों की गिरफ्तारी जल्द कर ली जएगी। मामला अल्मोड़ा जिले के विकासखंड भैसियाछाना अंतर्गत कांचुला पुल के समीप का है। जिसमें युवाओं के झुंड ने बाड़ेछीना क्षेत्र के ग्राम सुपई तिवारी निवासी राजेंद्र सिंह चम्याल पुत्र नैन सिंह चम्याल पर निर्दयता और दबंगई से लाठी—डंडे बरसाये और उपचार के दौरान गंभीर रूप से घायल राजेंद्र ने दम तोड़ दिया। घटना के बाद राजेंद्र की पत्नी कमला चम्याल की तहरीर पर गांव के अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का अभियोग पंजीकृत हुआ। संवेदनशील मामला होने से जिलाधिकारी ने मामले की विवेचना राजस्व पुलिस से रेगुलर पुलिस को सौंपी और एसएसपी ने 27 जुलाई को विवेचना वरिष्ठ उप निरीक्षक बसंती आर्या को सौंपते हुए त्वरित विवेचना कर अभियुक्तों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए। हमारें यूट्यूब को सब्सक्राइबर करे 👉 click now 👈

तत्पश्चात पुलिस क्षेत्राधिकारी वीर सिंह एवं प्रभारी निरीक्षक हरेंद्र चौधरी के पर्यवेक्षण में अभियोग के अनावरण के लिए टीम गठित हुई। गुरुवार को मामले का खुलासा करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रह्लाद नारायण मीणा ने बताया कि वरिष्ठ उप निरीक्षक बसंती आर्या के नेतृत्व में टीम ने गहन जांच पड़ताल की और साक्ष्य जुटाए। विवेचना में पता चला है कि इस कांड में 11 लोग में लिप्त हैं। इनमें से तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जिनमें क्षेत्र पंचायत सदस्य गिरधर सिंह सुप्याल उर्फ गुड्डू 30 वर्ष पुत्र मोहन सिंह सुप्याल, राजेंद्र सिंह डोलिया 32 वर्ष पुत्र प्रेम सिंह डोलिया तथा करन सिंह डोलिया 22 वर्ष पुत्र शिवराज सिंह डोलिया शामिल हैं। ये तीनों ही ग्राम सुपई तिवारी के हैं। एसएसपी ने बताया कि अन्य 8 लोगों का पता भी चल गया है, जिनकी गिरफ्तारी शीघ्र कर ली जाएगी। 👉 व्हाट्सएप ग्रुप click now 👈

पुलिस टीम में वरिष्ठ उप निरीक्षक बसंतती आर्या के साथ एसएसआई मनोहर सिंह, कांस्टेबल संदीप​ सिंह, खुशाल राम, नारायण रावल, मान सिंह शामिल हैं।
एसएसपी मीणा ने खुलासा करते हुए बताया कि उक्त लोगों ने एक राय बनाकर पूर्व नियोजित योजना के तहत घटना को अंजाम दिया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार लोगों ने अपना जुर्म कबूल लिया है और बताया है कि मृतक के साथ उक्त लोगों का गांव में सरपंच के चुनाव को लेकर रंजिश चल रही थी। चुनाव में खुद मृतक भी प्रत्याशी था। एसएसपी ने बताया कि गिरफ्तार लोगों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त लाठी—डंडे और मृतक का क्षतिग्रस्त मोबाइल बरामद कर लिया है। एसएसपी ने मामले का पर्दाफाश करने वाली पुलिस टीम को ढाई हजार रूपये का इनाम देने की घोषणा की है।

उल्लेखनीय है कि 20 जुलाई 2020 को विकासखंड भैसियाछाना अंतर्गत राजस्व क्षेत्र पल्यूं के ग्राम सुपई तिवारी निवासी राजेंद्र सिंह चम्याल को गांव के ही कुछ युवकों ने लाठी-डंडों से पीट—पीट कर बुरी तरह चोटिल कर दिया था। इन्होंने दिन दहाड़े करीब 2 बजे कांचुला पुल के पास सड़क में राजेंद्र सिंह को घेरा तथा धुनाई शुरू कर दी और उसे मरणासन्न छोड़ कर चल दिए। सूचना मिलने पर राजस्व उपनिरीक्षक पल्यूं कृपाल सिंह बेलवाल मौके पर पहुंचे और उन्होंने आपातकालीन सेवा—108 की मदद से घायल को बाड़ेछीना अस्पताल में पहुंचाया। गंभीर हालत को देखते हुए बाड़ेछीना अस्पताल से राजन को जिला चिकित्सालय अल्मोड़ा रेफर कर दिया, लेकिन अस्पताल पहुंचते वक्त घायल ने दम तोड़ दिया। 👉 व्हाट्सएप ग्रुप click now 👈

हमारें यूट्यूब को सब्सक्राइबर करे 👉 click now 👈

Leave a Comment!

error: Content is protected !!