Bageshwar News: 15 घण्टे बाद रोशन हो सके गरुड़ क्षेत्र के 300 गांव, कई सड़कों पर भारी पड़ी अतिवृष्टि

101

सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर
जिले में गुरुवार सुबह झमाझम बारिश ने कई जगह क्षति पहुंचाई। मलबा गिरने से तीन मोटरमार्गो पर आवागमन ठप होने से लोगों की फजीहत हुई। वहीं कहीं बिजली आपूर्ति ध्वस्त हो गई। कौसानी में ​मुख्य विद्युत लाइन में पेड़ गिरने से गरुड़ क्षेत्र के करीब 300 गांवों की बिजली गुल हो गई। जो 15 घंटों बाद बहाल हो सकी।
जिले में भारी बारिश से सरयू नदी का जलस्तर बढ़ गया। जिससे पेयजल योजनाएं प्रभावित हो गई हैं।

सुबह सरयू का जलस्तर बढ़ने से नदी किनारे घरों को अलर्ट जारी किया गया। बारिश से बालीघाट-धरमघर मोटरमार्ग में महरगाड़ के समीप भारी भूस्खलन के कारण यातायात बंद हो गया। कपकोट-कर्मी-तोली और बालीघाट-दोफाड़-धरमघर मोटरमार्ग जगह-जगह भूस्खलन होने से आवागमन को बंद हो गया है। इसके अलावा द्यांगण-आरे बाइपास, मेहनरबूंगा-मालता मोटरमार्ग में मलबा भर गया है। ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़नी वाली सड़कें कीचड़ से सन गई हैं।

कौसानी में विशालकाय पेड़ गिरने से कौसानी-बागेश्वर मोटरमार्ग सुबह घंटों बंद रहा। स्थानीय लोगों की मदद से प्रशासन ने सड़क से पेड़ हटाया। वहीं 33 हजार केवी की मुख्य लाइन पर पेड़ गिर गया। जिससे तार और खंभों को भारी नुकसान पहुंचा है। तीन सौ गांवों की विद्युत आपूर्ति बाधित हो गई है। महकमे की कड़ी मशक्कत के बाद करीब 15 घंटों बाद ये गांव रोशन हो सके। वर्षा से जौलकांडे निवासी केशव दत्त भट्ट के आवास के आगे आंगन ध्वस्त हो गया है। जिससे उनके मकान को भी खतरा बना हुआ है। दणों-गडेरा सड़क में असों के समीप गधेरा उफन गया, इस कारण वाहन फंस रहे हैं।

उत्तराखंड बिग ब्रेकिंग, पांव फिसलने से झरने में जा गिरा भाई, बड़ी बहन ने भी लगा दी छलांग, दोनों की दर्दनाक मौत, मृतकों के घर में पसरा मातम

गजब : यहां पांच मिनट में शख्स को दी गई वैक्सीन की दोनों डोज, जांच के आदेश

अल्मोड़ा ब्रेकिंग : कोरोना से फिलहाल छुटकारा नही, आज मिले 23 नए केस

उत्तराखंड में 3242 मरीजों ने जीती जंग, 388 नए मामले और 15 की मौत

Almora Breaking : खाई में गिरी बोलेरो, 6 साल की बच्ची सहित दो की मौत

Previous articleBageshwar News: वर्चुअल तरीके से हुई सर्वधर्म प्रार्थना, कोरोना योद्धाओं व कोरोना को मात देने वालों की स्वस्थ व सुखी जीवन की कामना और कोरोना से जान गंवाने वालों के लिए रखा मौन
Next articleBageshwar News: सरसों के मिश्रित तेल की बिक्री प्रतिबंधित, उल्लंघन पर फसाई एक्ट—2006 के तहत होगी कार्रवाई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here