ब्रेकिंग नालागढ़ : कबाड़ के गोदाम पर गोलीबारी में पांच युवक हिरासत में, पुलिस का दावा – पूरा प्रकरण सुलझाने के बाद होगा खुलासा

7

नालागढ़। नालागढ़ के राजपुरा में कबाड़ के गोदाम पर हुई गोलीबारी मामले में पुलिस ने 5 आरोपियों को हिरासत में लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। इस गोलीकांड के तार पंजाब के गैंगस्टर दिलप्रीत बाबा से जुड़े हैं। सूत्र बता रहे हैं कि दिलप्रीत बाबा जेल में बैठ कर अपनी गैंग को चला रहा है।


राजपुरा के कबाड़ के गोदाम पर हुई गोलीबारी के मामले में भी नामी गैंगस्टर दिलप्रीत बाबा की गैंग के हाथ होने की बात सामने आई थी। पीड़ित ने दावा किया था कि यह फायरिंग फिरौती को लेकर की गई थी। इस फायरिंग में कबाड़ गोदाम मालिक को निशाना बनाया गया था। आरोप था कि गैंगस्टर द्वारा उससे से डेढ लाख रुपये प्रतिमाह की मांग की जा रही थी।

👍 सीएनई के फेसबुक पेज को लाइक करें

👉 सीएनई के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें

🔥 सीएनई के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

इसके बाद फायरिंग के आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस की कई टीमें पंजाब,चंडीगढ़ में दबिश दे रही हैं। पुलिस का दावा है कि जल्द ही कर लिया जाएगा गिरफ्तार। सूत्रों के मुताबिक अभी भी दिलप्रीत गैंग के सदस्य बीबीएन के 4 दर्जन से ज्यादा उद्योगों से रंगदारी वसूल रहे हैं। लेकिन गैंगस्टरों के डर से उद्योगपति पुलिस तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। वे अपने परिवार की सुरक्षा और अपने उद्योग चलाने के की मजबूरी के चलते रंगदारी दे रहे हैं।

सूत्र बताते हैं कि इस बीच दिलप्रीत से पुलिस ने जेल में पूछताछ की है। उसने अपनी गैंग के सदस्यों के बारे में पुलिस को जानकारी दी है। दिलप्रीत के बयानों के आधार पर पुलिस ने अलग-अलग जगहों पर दबिश देकर पांच गैंग के सदस्यों को हिरासत में लिया है। इस गैंग के स्लीपर सेल के रूप में एक स्थानीय युवक का भी नाम सामने आया है। दिलप्रीत वह गैंग के लिए सदस्यों को हथियार व नशीला पदार्थ उपलब्ध करवाता था। फायरिंग करने वाले दोनों गैंगस्टर पंजाब के रहने वाले बताए जा रहे हैं।


डीएसपी नवदीप सिंह ने बताया है कि इस मामले की जांच पुलिस की टीमें कर रही हैं।पूरे प्रकरण पर उच्च अधिकारी नजर रखे हुए हैं। उन्होंने बताया कि पूरे प्रकरण को सुलझाने के बाद ही मीडिया को जानकारी दी जाएगी।

हिमाचल की खबरें मोबाइल पर पढ़ने के लिए लिंक पर क्लिक करे
https://chat.whatsapp.com/
FdXfaGaJxHuIJXXUxifzRb

Previous articleहल्द्वानी न्यूज़ : शहर की क्षतिग्रस्त सिंचाई नहरों को लेकर सिंचाई मंत्री को भेजा ज्ञापन
Next articleअल्मोड़ा : सरस्वती शिशु मंदिर के आचार्य राजेश कुमार लोहनी को पितृ शोक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here