Breaking Almora : सल्ट में भाजपा प्रत्याशी महेश जीना ने दर्ज की शानदार जीत, कांग्रेस की गंगा पंचोली को 4 हजार 697 मतों से हराया, देर शाम हुआ Result declare, नोटा पांच अन्य प्रत्याशियों पर पड़ा भारी, बाकी की जमानत जब्त

88

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा
सल्ट उप चुनाव में भाजपा प्रत्याशी महेश जीना ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी गंगा पंचोली को कुल 4 हजार 697 मतों से हराकर जीत दर्ज की है। इस चुनाव में खास बात यह रही कि 721 मत नोटा (इनमें से कोई नही) के खाते में भी गये, जो कि भाजपा व कांग्रेस प्रत्याशी के बाद किसी भी अन्य प्रत्याशी को मिले मतों से ज्यादा है। नोटा से भी कम रहे शेष पांच प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई है। हालांकि भाजपा कार्यकर्ताओं ने काफी पहले ही जीना के समर्थन में मिष्ठान वितरण कर जीत का ऐलान कर दिया था, लेकिन बहुत देर तक अंतिम परिणामों की अधिकारिक पुष्टि नही होने से संशय बना रहा।

चुनाव में कुल 12 राउंड हुए। पहले राउंड से ही भाजपा प्रत्याशी जीना आगे रहे। कई राउंड में गंगा पंचोली भी मजबूत टक्कर देती दिखाई दीं। अंतिम परिणामों के अनुसार गंगा पंचोली को कुल 17177, महेश जीना को 21874, जगदीश चंद्र को 493, नंद किशोर को 209, उक्रांद के पान सिंह को 346, शिव सिंह रावत को 466 तथा सुरेंद्र सिंह को 620 मत मिले। यहां 721 मत नोटा के खाते में भी गये, जबकि 63 मत अ​वैध घोषित हो गये। यहां यह बता दें कि चुनाव में शेष पांच उम्मीदवारों की जमानत जब्त हुई है। इधर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भाजपा प्रत्याशी की जीत पर उन्हें शुभकामनाएं दी हैं।

उत्तराखंड में काबू में नही आ रहा कोरोना, आज 5 हजार 606 आये संक्रमण की चपेट में, 71 की मौत, जानिये अपने जिले का हाल….

हमारे WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

🔥 सीएनई के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

उन्होंने कहा है कि ”सल्ट विधानसभा उपचुनाव में प्रचंड मतों से जीत हासिल करने पर भाजपा प्रत्याशी माननीय श्री महेश चंद्र जीना जी को हार्दिक शुभकामनाएं। मैं भगवान बदरी विशाल और बाबा केदार से आपके सफल कार्यकाल की मंगल कामना करता हूं। मुझे पूर्ण विश्वास है कि स्वर्गीय श्री सुरेन्द्र सिंह जीना जी के अधूरे कार्यों और सल्ट विधानसभा क्षेत्र के चहुंमुखी विकास के स्वप्न को साकार करने में आप महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। साथ ही मैं सल्ट विधानसभा क्षेत्र के मतदाताओं का हृदय से आभार व्यक्त करता हूं।”

ज्ञात रहे कि महेश जीना केवल 17 दिन के सक्रिय प्रचार ही कर पाये थे। उनका नाम नामांकन के आखिरी दिन यानि 30 मार्च को घोषित हो पाया था। इतने कम समय में भी उन्होंने शानदार जीत दर्ज की है।

Big Breaking : दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री के पिता का कोरोना संक्रमण से निधन, केजरीवाल ने दी श्रद्धांजलि

दर्दनाक, और कितनी जानें लेगा कोरोना : Covid infection के चलते Home isolation में रह रहे पिता—पुत्र की मौत, चार दिन तक पिता—पुत्र के शवों के साथ रही दिव्यांग पत्नी

Previous articleशोक समाचार : रानीखेत के पत्रकार गोपालनाथ गोस्वामी की माता दुर्गादेवी का निधन, सोमवार को बिंदुखत्ता में दी जायेगी समाधि
Next articleबिग ब्रेकिंग : Uttar Pradesh में Corona का कोहराम, दूसरे states से बसों के आने पर लगाई रोक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here