पीयूष मिश्रा

अयोध्या। कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने सभी एसडीएम से कहा कि अपने अधीन समस्त लेखपाल को उनसे संबंधित ग्रामो के सर्वे करते हुए गेहू विक्रय करने वाले किसानों की सूची बनाने के उपरान्त उनका पंजीकरण कराये और किस दिन किसान अपना गेंहू क्रय केन्द्र पर बेचना चाहता है तिथिवार सूची व उनका मोबाइल नम्बर सहित सूची केन्द्र प्रभारी को दे। ताकि उस दिन केन्द्र प्रभारी द्वारा किसानों को मोबाइल द्वारा स्मरण कराया जा सके।
जिलाधिकारी ने कहा कि वे लेखपाल जिनकी ड्यूटी गेंहू क्रय केन्द्रों पर लगाई गई है वे प्रत्येक दशा में 9 बजे गेहू क्रय केन्द्र पर पहुचकर सायं 6 बजे तक उपस्थित रहें। शासन द्वारा गेहूॅ का न्यूनतम क्रय मूल्य 1925 रू. निर्धारित किया गया है। कोई भी व्यापारी समर्थन मूल्य 1925रुपये से कम दर पर क्रय करता है तो उसके खिलाफ कार्यवाही भी की जाये। जिलाधिकारी ने प्रतिदिन गेहूॅ क्रय की समीक्षा के साथ प्रतिदिन गेंहू क्रय की रिर्पोट भी तलब की है।
जिलाधिकारी ने बताया कि 60 जनसेवा केन्द्रों को चिन्हित कर उन्हें गेंहू किसानों के पंजीकरण हेतु अनुमति प्रदान की गई है। लेखपाल किसानों के पंजीकरण के साथ गेंहू क्रय केन्द्र से समन्वय बनाकर किसानों के गेंहूॅ की तौल की तिथि का टोकन उपलब्ध करायेंगे।
जिलाधिकारी ने लेखपालों से यह भी सुनिश्चित करने को कहा कि गेंहू क्रय केन्द्रों पर बिचौलियों का गेहू कदापि क्रय न हों यदि कोई व्यक्ति बिचौलिया फर्जी ढंग से खतौनी इक्ट्ठा करके गेंहू क्रय केन्द्र पर गेंहू बेचता है तो उसके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया जाए। गेंहू क्रय केन्द्र पर सोशल डिस्टैसिंग मेनटेन करने के साथ हाथों को धोने हेतु साबुन, पानी पर्याप्त व्यवस्था हों, सभी पल्लेदार एवं किसान मास्क अवश्य पहने रहे, हाथों को समय-समय पर सैनेटाइज करें। किसानों के बैठने हेतु छाया तथा स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था रहे।


Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here