श्रीवास्तव दंपति सुसाइड केस : पीएम के बाद दोनों शव पहुंचे घर, अंतिम यात्रा की तैयारी, गुप्ता बंधुओं के साथ जमीन डील में भी फंसा था रुपया

6
पहली पत्नी दीपा के साथ चंद्रप्रकाश की फाइल फोटो

📰 खबरों के लिए जुड़े व्हाट्सप्प ग्रुप से 👉 Click Now 👈

हल्द्वानी। कल आत्महत्या करने वाले श्रीवास्तव दंपति का अब से कुछ देर बाद अंतिम संस्कार होगा। दोनों शवों को पोस्टमार्टम के बाद उनके घर आवास पर पहुंचा दिया गया है। जहां उनकी अंतिम यात्रा की तैयारी की जा रही है। इस बीच चंद्र प्रकाश श्रीवास्तव के कारोबार के बारे में कुछ जानकारियां भी सामने आई हैं। जिससे आत्महत्या एक का कारण आर्थिक संकट भी दिख रहा है।
दरअसल कुछ समय पहले चंद्रप्रकाश श्रीवास्तव ने आराटीओ रोड पर अपार्टमेंट बनाने की योजना बनाई थी। यह काम शुरू भी हुआ था लेकिन अचानक लॉक डाउन होने के कारण काम अटक गया।

क्रिएटिव न्यूज एक्सप्रेस की खबरों को अपने मोबाइल पर पाने के लिए लिंक को दबाएं


इस बीच प्रापर्टी डीलिंग का धंधा भी लगभग बंद होने के कगार पर आ ठहरा। दूसरी ओर उन्होंने किसी व्यक्ति को बरेली रोड पर जमीन खरीदने के लिए काफी पैसा लगवाया था। इसी जमीन के आधे भाग पर भूप्पी हत्याकांड में जेल में बंद सौरव व गौरव गुप्ता ने भी उस वक्त काफी पैसा लगाया था बाद में भूप्पी मर्डर केस हो गया और सौरव और गौरव गुप्ता जेल चले गए।

रुद्रपुर पार्षद की हत्या अपडेट : सीसीटीवी में कैद हुए हमलावर, कार में आए थे प्रकाश के घर के बाहर, गोली कांड के बाद किच्छा की ओर भागे, भदईपुरा को पुलिस ने छावनी बनाया

बताते हैं कि बाद में गुप्ता बंधुओं ने तो अपना पैसा किसी तरह जमीन के मालिक से वापस ले लिया लेकिन चंद्रप्रकाश की रकम फंस गई। इसके बाद से उनके आर्थिक हालात बिगड़ते चले गए। वे काफी तनाव में रहने लगे थे।

Previous articleनैनीताल : अब आईआरटी टीम लेगी डोर टू डोर कोरोना सैंपल
Next articleहल्द्वानी : बागेश्वर की बेटी दीपा दानू ने किया कोरोना पीड़ितों के लिए प्लाज्मा दान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here